एक बार फिर पंजाब की बेटी ने लहराया परचम,कनाडा सुप्रीम कोर्ट की पहली सिख जज बनीं पलविंदर

चंडीगढ़। एक बार फिर से पंजाब की बेटी ने भारत के तिरंगे का मान बढ़ाया है। पलविंदर कौर शेरगिल पंजाब के रुड़का कलां गांव की है। पलविंदर कौर कनाडा के सुप्रीम कोर्ट की पहली अमृतधारी सिख जज बनी है। इस खुशी के अवसर पर पूरे पंजाब में खुशी का माहौल है। पलविंदर के मायके और ससुराल दोनों ही जगह पर जश्नन का माहौल बना हुआ है। पंजाब के लोग पूरी दुनिया में छाते जा रहे है,और देशों में परचम लहरा रहे हैं। इसी कड़ी में पंजाब की एक और बेटी ने अपना नाम जोड़ दिया है। जालंधर के फिल्लौर क्षेत्र के गांव रुड़का कलां की रहने वाली पलबिंदर कौर शेरगिल कनाडा के सुप्रीम कोर्ट की जज बनी हैं। वह कनाडा के सुप्रीम कोर्ट ऑफ ब्रिटिश कोलंबिया की पहली अमृतधारी (पगड़ीधारी) सिख महिला जज बनी हैं।

पलविंदर ने जस्टिस अरनॉल्ड बेली का स्थान लिया है जो की 31 मई को सेवानिवृत्त हो चुके हैं। कनाडा में पलबिंदर कौर की पहचान मानवाधिकार मामलों के बड़े वकील के रूप में बनी रही है। कनाडा के विधि मंत्री व अटॉर्नी जनरल जोडी विल्सन ने उनकी नियुक्ति की घोषणा की है। इससे पहले वह अपनी लॉ फर्म शेरगिल एंड कंपनी चलाया करती थी।

पलविंदर की शादी नवांशहर के जगतपुर गांव में हुई, मानवाधिकार मामलों के बड़े वकील के रूप में है पहचाने जाते है। वर्ल्‍ड सिख ऑर्गेनाइजेशन के अध्यक्ष मुखबिर सिंह ने कहा की यह कनाडा में रह रहे सिख समुदाय के लोगों के लिए एक और मील का पत्थर है। इससे यहां रह रहे सिख समुदाय के लोगों को और बल मिलेगा, यहां अपनी गहरी छाप छोड़ पाएंगे। वह कनाडा में रहने वाले सिख समुदाय के कई मामलों की अदालत में पैरवी कर चुकी हैं।

पलविंदर के पैतृक घर में चलता है निशुल्क सिलाई और कंप्यूटर सेंटर, कनाडा में रक्षा मंत्री हरजीत सिंह सज्जन की रिश्तेदार पलविंदर कानून के क्षेत्र में ही काम नहीं कर रही बल्कि समाज सेवा में भी उनका अहम योगदान रहा है। रुड़का कलां के पूर्व सरपंच उनके चचेरे भाई गुरविंदर सिंह ने कहा की पलबिंदर व उनके पिता ज्ञान सिंह का गांव से गहरा लगाव है। वह हर दो साल बाद परिवार सहित भारत में अपने गांव में जरूर घूमने आते हैं। उन्होंने बताया की उनके परिवार ने गांव में अपने पैतृक घर में जहां लड़कियों के लिए निशुल्क सिलाई सेंटर खोल है। वहीं पर छोटे बच्चों के लिए निशुल्क स्कूली शिक्षा देने के साथ-साथ बड़ों के लिए निशुल्क कम्प्यूटर सेंटर भी चला रखा है।

पलविंदर की शादी अमृतपाल से कनाडा में ही हुई थी ,गांव जगतपुर में पलविंदर कौर के देवर गुरप्रीत पाल सिंह ने कहा की सुबह फोन पर उन्हें पलबिंदर के जज बनने की खबर मिली। उन्होंने बताया की पलबिंदर के पति अमृतपाल सिंह शेरगिल के पिता व उनका परिवार करीब 35 साल पहले ही विदेश शिफ्ट हो गया था। करीब डेढ़ साल पहले वे सपरिवार गांव आए थे। उन्होंने कहा की उनके भाई व भाभी पलविंदर कौर की शादी विदेश में हुई है।

पलबिंदर के जज बनने की खुशी में जहां उनके मायके रूड़का कलां में लड्डू बांटे गए है तो वहीं उनकी ससुराल में भी खुशी का माहौल है। पलविंदर की ससुराल शहीद भगत सिंह नगर जिले के गांव जगतपुरा में है जहां पर भी खुशी का माहौल बना हुआ है। मायका गांव में भी खुशी की लहर है और पलविंदर के घर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है।