मासूमों के पुष्टाहार पर अधिकारियों की नजर

देवरिया। जिन मासूमों को खाने के लिए सरकार भोजन दे रही है वो खाना मासूमों के पेट में जाने  के बजाय कहीं और ही सप्लाई हो रहा है। दरअसल उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में बडे पैमाने पर पुष्टाहार की चोरी करके इसे बिहार भेजा जा रहा है। नाम ना लिखने के आधार पर एक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने कहा कि बच्चों को देने के लिए जो पुष्टाहार ‘हमें मिलता है।और जहाँ से हम पुष्टाहार ले जाते हैं वहां के कर्मचारी हम से रुपये मांगते हैं।

फाइल फोटो

इतना ही नहीं जब आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा पैसे देने से इंकार किया जाता है तो कहते हैं कि आपकी शिकायत से साहब से कर दी जाएगी। जिले में अंगद की तरह पैर जमाये हुए इस अधिकारी पर जिले के उच्चाधिकारी भी मेहरबान है। आखिर इस अधिकारी कौन सी  खूबी है। जिले के अधिकारी को कुछ नहीं करेंगे। अब निर्वाचन आयोग से ही उम्मीद है। इस अधिकारी के संबंध में आजाद हिंद फौज के संस्थापक ॠषि पांडेय ने कहा कि इनके खिलाफ तमाम लिखित शिकायतें भी की गई है। और इनके खिलाफ एक बार मैं खुद धरना पर बैठा हुआ था इसके बावजूद भी शासन में रुपये के बल पर आज तक शासन ने हिम्मत ही नहीं जुटा पाया कि यहां पर कोई जिला कार्यक्रम अधिकारी भेज दे।

रंजन गुप्ता, संवाददाता