अधिकारियों ने लाल और नीली बत्ती को कहा टाटा

मेरठ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा सूबे में लाल-नीली बत्ती का कल्चर समाप्त किये जाने के आदेशों का असर शुक्रवार को मेरठ कलक्ट्रेट में देखने को मिला। जहां जिलाधिकारी समीर वर्मा सहित अन्य अधिकारियों ने अपनी सरकारी गाडी से नीली बत्ती को उतार दिया। कलक्ट्रेट पहुंचे कई अधिकारी तो बिना नीली बत्ती की गाडी के साथ ही अपने कार्यालय पहुंचे तो कई अधिकारियों ने अपने कार्यालय पहुंचकर अपने हाथों से गाडी की नीली बत्ती उतारी।

हालांकी कुछ अधिकारियों द्वारा जो सीधे-सीधे कलक्ट्रेट से नही जुडे है उन्होने अपनी गाडी पर नीली बत्ती को लगाये रखा गया किंतु जब वह डीएम से मिलने उनके कार्यालय पहुंचे तो उन्होने डीएम की गाडी को बिना नीली बत्ती के देखा तो उन्होने अपनी गाडी से भी नीली बत्ती को उतार दिया।

महापौर हरिकांत अहलूवालिया ने भी अपनी गाडी से लाल बत्ती को उतार दिया। कमिश्नरी पार्क में आयोजित संघ के कार्यक्रम में भाग लेने महापौर हरिकांत बिना लाल बत्ती की गाडी के पहुंचे जिस पर भाजपाईयों ने उनकी सराहना की।

 शानू भारती, संवाददाता