कोलंबिया में भूस्खलन से हुई तबाही का कहर जारी, अब तक 254 लोगों की मौत

बोगोटो। कोलंबिया के पुटुमायो प्रांत में भारी बारिश से नदियों में उफान आने के बाद हुए भूस्खलन से मोकोआ शहर में मरने वालों की संख्या बढ़कर 254 पर पहुंच गई है। नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ फोरेंसिक एंड फोरेंसिक साइंस के निदेशक कार्लोस एडुवाडरे वाल्डेस ने बताया कि फिलहाल हमारे पास 248 शव हैं। बता दें कि कोलंबिया में शुक्रवार रात को लगातार हो रही बारिश से भूस्खलन में सैकड़ों लोगों की जान चली गई और कई लोग अभी भी लापता है जिनका पता नहीं चल पाया है।

 

इस भयानक त्रासदी में अनुमान के अनुसार 300 से ज्यादा लोगों के घर तबाह हो गए हैं। अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि मोकोआ में भारी बारिश के बाद जमीन धंसने के कारण बहुत से घर तहस-नहस हो गए हैं। बारिश से यहां की तीन नदियों में आई बाढ़ से कई घर, पुल, गाड़ियां और पेड़ बह गए। दक्षिणी कोलंबिया में मोकोआ शहर के अलावा पुटुमायो प्रांत में बड़ी संख्या में लोगों का पता नहीं चल पा रहा है। अस्पतालों में घायलों की संख्या बढ़ती जा रही है और उन्हें इलाज देने में भी काफी समस्या हो रही है।

घटना के बाद कोलंबिया के राष्ट्रपति मैन्युअल सैंतोस ने पुतुमायो की राजधानी मोकोआ का दौरा कर बचाव और सहायता कार्यों का जायजा लिया। उन्होंने लोगों को ऐसे समय में धैर्य रखने को कहा है और हर जरूरी मदद देने का आश्वासन भी दिया है। राष्ट्रपति मैन्युअल सांतोस ने कहा है कि राष्ट्रीय आपदा राहत के लिए सैनिकों को भी तैनात कर दिया गया है।

सरकारी मौसम विभाग के के अनुसार 2011 से ही कोलंबिया में मार्च के महीने में सबसे अधिक बारिश होती है इस बार इतनी बड़ी त्रासदी होगी इसका किसी को कोई अंदाजा नहीं था।