अब घर बैठे करें सीएम अखिलेश से शिकायत, तुरंत कार्रवाई

लखनऊ। अगर आपको अपनी समस्या व श‍िकायत सीधे मुख्यमंत्री अख‍िलेश यादव से करनी है, तो आपको ऑनलाइन नेटवर्क पर जाना होगा। कंप्यूटर हो या लैपटॉप या फिर आपके अपने फोन पर एक क्लिक करते ही आप सीधे मुख्यमंत्री के नेटवर्क से जुड़ जाएंगे। अब न तो आपको अपनी श‍िकायत पहुंचने का इंतजार करना पड़ेगा और न ही आपकी श‍िकायत पर हुई कार्रवाई के बारे में जानने के लिए विभागों के चक्कर लगाने होंगे।

Akhilesh

यह हाईटेक पहल मुख्यमंत्री ने की है। जन शिकायतों के त्वरित, प्रभावी एवं पारदर्शी निस्तारण के लिए देश के पहले एकीकृत पोर्टल ‘जन-सुनवाई’ का सोमवार को शुभारंभ हो गया है। इसी के साथ देश की पहली मीडिया हेल्पलाइन (1800-1800-303) भी शुरू हो गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता की छोटी-छोटी समस्याओं एवं शिकायतों के निस्तारण पर मुख्यमंत्री कार्यालय से ‘जन-सुनवाई’ पोर्टल के माध्यम से निस्तारित की जाएगी। इससे लोगों को राहत मिलेगी और उनकी शिकायतों के निस्तारण में गुणवत्ता आएगी।

हाईटेक श‍िकायत पटल

हाईटेक शिकायत निवारण प्रणाली की विशिष्टताओं से भरपूर है। इससे मुख्यमंत्री कार्यालय, जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक कार्यालय, तहसील दिवस व ऑनलाइन माध्यम से मिलने वाली सभी शिकायतों का निस्तारण इसी पोर्टल के जर‍िए होना है। 20 फरवरी से अन्य राज्य स्तरीय कार्यालयों में ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा भी इस प्रणाली के माध्यम से मिल जाएगी।

आमतौर पर सरकारी कामकाज में किसी भी श‍िकायत व आवेदन को मार्क कराना सबसे टेढ़ी खीर है। पर अब ऐसा नहीं होगा कि अफसरों से मार्किंग कराने में उनके दफ्तरों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। अब ई-मार्किंग के जरिए जनता की शिकायतें व आवेदन, सम्बन्धित अधिकारियों एवं विभागों को इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से भेजे जाएंगे।
जिससे निस्तारण में गति आएगी। लोग अपनी शिकायतें एवं आवेदन घर बैठे ऑनलाइन कर सकते हैं। जिससे लोगों को अनावश्यक विभिन्न कार्यालयों में आने-जाने से राहत मिलेगी।

घर बैठे दर्ज कराएं आपत्त‍ि

शिकायतों के निस्तारण की स्थिति पर इसी पोर्टल की ओर से जानकारी की जा सकेगी और यदि निस्तारण की गुणवत्ता ठीक नहीं है तो इसी पोर्टल पर अपनी बात पुनः लिखने की सुविधा मिलेगी।

इस पोर्टल पर आने वाली शिकायतों पर सीधे उनके कार्यालय की ओर से सतत नजर रखी जाएगी। शिकायतों के निस्तारण एवं अन्य प्रकरणों में फीडबैक लेने को लेकर अलग से कॉल सेण्टर भी स्थापित किया जा रहा है।