पूरे कैरियर में कम समय में इतना ज्यादा क्रिकेट नहीं खेला: हार्दिक पांड्या

नई दिल्ली । श्रीलंका के खिलाफ पहले दो टेस्ट के लिए हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या को भारतीय टीम में जगह नहीं मिली थी। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने कहा था कि टीम मैनेजमेंट से बात कर इस बारे में फैसला किया गया था। इस बारे में हार्दिक ने कहा, “भाग्यशाली हूं कि मुझे यह ब्रेक मिला है। मैं इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें सत्र से ही लगातार क्रिकेट खेल रहा हूं और फिर अब श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट मैच भी खेलना था, ईमानदारी से कहूं तो मेरा शरीर इसके लिए तैयार नहीं था चैम्पियन्स ट्राफी के शुरूआत से लेकर अब तक पांड्या ने 33 मैचों में से 30 मैचों में हिस्सा लिया है। इस दौरान पांड्या ने 147.2 ओवर गेंदबाजी की। जो किसी भी भारतीय गेंदबाज द्वारा सबसे ज्यादा फेंके गये ओवर है।

hardik pandya
hardik pandya

बता दें कि पांड्या ने एक समाचार चैनल को दिये साक्षात्कार में कहा कि उन्होंने अपने पूरे कैरियर में इतने कम समय में इतना ज्यादा क्रिकेट नहीं खेला। खासकर एक हरफनमौला खिलाड़ी के तौर पर कुछ ज्यादा कठिनाई होती है। आपको गेंदबाजी करनी होती है,फिर उसके बाद बल्लेबाजी और फिर क्षेत्ररक्षण,जिसके कारण आपके कंधों पर काफी जिम्मेदारी आ जाती है और यह मेरे लिए काफी मुश्किलों भरा है, क्योंकि मैंने कभी इतना क्रिकेट नहीं खेला है।

उन्होंने कहा कि मैं इस ब्रेक के दौरान व्यायाम करूंगा,जिससे मेरी फिटनेस में सुधार करेगा। मैं झूठ नहीं बोलूंगा, मैं दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ श्रृंखला के लिए वास्तव में उत्साहित हूं। मैं श्रृंखला के लिए अपनी फिटनेस में सुधार के लिए इस ब्रेक का इस्तेमाल करना चाहता हूं। उल्लेखनीय है कि पिछले एक साल में पांड्या ने 30 एकदिवसीय, 25 टी -20 और 3 टेस्ट मैच खेले हैं।