नीतीश ने बाढ़ राहत शिविरों का जायजा लिया

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को पटना जिले के कई बाढ़ राहत शिविरों को जायजा लिया और वहां रह रहे बाढ़ पीड़ितों की समस्याएं सुनीं। मुख्यमंत्री ने बाढ़ पीड़ितों को उचित सुविधा मुहैया कराने का आश्वासन दिया। पटना के दियारा क्षेत्रों में आई बाढ़ के बाद प्रभावित लोगों के लिए सरकार द्वारा कई राहत शिविर बनाए गए हैं। मुख्यमंत्री सबसे पहले मनेर उच्च विद्यालय में बने राहत शिविर पहुंचे। उनके साथ जल संसाधन मंत्री ललन सिंह के अलावे आपदा प्रबंधन विभाग के अधिकारी भी मौजूद थे।

Nitish

मुख्यमंत्री मनेर और पटना ग्रामीण इलाके के बाढ़ पीड़ितों से मुलाकात कर उनकी समस्याओं को देखा और उसका जायजा लिया। मुख्यमंत्री ने बाढ़ पीड़ितों को आश्वासन दिया कि सरकार हर हाल में उनके साथ है। उन्होंने कहा कि सभी क्षेत्रों में राहत सुविधाएं दी जा रही हैं।

मुख्यमंत्री ने राहत शिविर में रह रहे लोगों को दिए जा रहे खाने के विषय में भी पूछा। मनेर उच्च विद्यालय राहत शिविर में अभी कम से कम 500 लोग रह रहे हैं। मुख्यमंत्री दानापुर क्षेत्र में बनाए गए राहत शिविरों का भी दौरा किया और वहां रह रहे लोगांे का हालचाल जाना।

मुख्यमंत्री ने शिविरों में तैनात मेडिकल टीमों से भी पूछताछ की। मुख्यमंत्री ने सभी अधिकारियों को बाढ़ पीड़ितों को सही तरीके से उचित मदद मुहैया कराने का निर्देश दिया। उल्लेखनीय है कि बिहार में गंगा नदी में आई बाढ़ के कारण पटना सहित 12 जिलों के करीब 30 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हैं। राज्य में 274 बाढ़ राहत शिविर चलाए जा रहे हैं।