दहेज लोभियों ने ली विवाहिता की जान :हरदोई

उत्तर प्रदेश। केंद्र व प्रदेश सरकार जहाँ तमाम योजनाए जनता के लिए निकाल ने की जद्दो जहद में लगी हुई है और महिला सुरक्षा के दावे वादे कर रही है लेकिन दहेज प्रथा के खिलाफ सूबे की ये सरकार आखिर कब जागरूक होगी इसका पता तो आने वाले समय में लगेगा। लगातार दहेज उत्पीड़न से होने वाली महिलाओं की मौतों का किसी भी जिम्मेदार के पास कोई जवाब नही होता है। इन शर्मसार कर देने वाली घटनाओं का अहम कारण आरोपियों का खुले आम घूमना है ,अगर इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने वाले आरोपियों पर शासन व प्रशासन द्वारा सख्त कार्रवाई की जाए तो शायद इन दहेज उत्पीड़न से होने वाली हत्याओं व मौतों की घटनाओं पर अंकुश लगाया जा पाना मुमकिन हो पाएगा।आज लगातार हरदोई जिले में दो दहेज हत्याओं के मामले सामने आए है।

पूरा मामला हरदोई जिले की हरपालपुर थाना क्षेत्र के बमरौली गाँव का जहाँ एक पीड़िता कोमल ने फाँसी का फंदा लगा कर खुद को मौत के घाट उतार दिया है। परिजनो के मुताबिक़ म्रतक कोमल को उसके पति ध्रुव शुक्ला द्वारा पीट पीट कर उसकी हत्या की गयी और फाँसी के फंदे पर लटका दिया गया है। एक वर्ष पहले ही शादी कर अपनी नयी जिंदगी की शुरुआत करने अपने ससुराल आयी थी कोमल ,लेकिन ससुरली जानो ने दहेज के लोभ में ले  इस मासूम की जान कोमल के भाई ने बताया कि तमाम माँगे पूरी करने के बाद अब दो लाख रुपयों  माँग कर रहे थे मेरी बहन के ससुराल वाले,लेकिन हम इतने पैसों  इंतजाम करने की स्थिति में नही थे।

मामले की जानकारी से अपर पुलिस अधीक्षक पश्चिमी ने अवगत कराया और बताया कि परिजनो की तहरीर पर आरोपी पक्ष के ख़िलाफ़ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है,जल्द ही आरोपियों की गिरफतारी कर ली जाएगी।