सेतु के निकट नहीं,दीघा में बनाया जाएगा चार लेन पुल

पटना। केंद्र सरकार की ओर से प्रस्तावित किया गया चार लेन पुल के स्थान को बदल दिया गया है। यह पुल पहले गंगा पर गांधी सेतु के समानांतर बनने वाला था जो अब दीघा में बनेगा। बिहार सरकार प्रस्ताव तैयार कर रही की चार लेन का पुल दीघा-सोनपुर के पश्चिमी हिस्से में बनाया जाए,जिसका प्रेजेंटेशन मुख्यमंत्री के सामने भी होना है,जिसके बाद प्रस्ताव को आगे बढ़ा दिया जाएगा। इस प्रोजेक्ट को सड़क परिवहन एंव राजमार्ग मंत्रालय से आरंभ करने की बात कर रही। मंत्रालय पर इस प्रस्ताव पर अपनी सहमति भी जताई गई है।

सड़क निर्माण विभाग के अधिकारियों ने कहा की जब गांधी सेतु का पुनर्निर्माण होना है तो उसके समानांतर छह लेन पुल बनाने की कोई जरूरत ही नही है। गांधी सेतु के समानांतर कच्ची-दरगाह-बिदुपुर छह लेन पुल का निर्माण राज्य सरकार अपनी निधि से रही है और एडीबी से ऋण लेकर करा रही। एक जगह दो पुल हो जाऐंगे। तीसरा पुल बन गया तो गंगा के उत्तरी छोर पर एक जगह गाडियों की भरमार हो जाएगी, जिससे दिक्कत होगी।

दीघा-सोनपुर पुल दो लेन का है। आने वाले समय में जब इस पर ट्रैफिक लोड बढ़ेगा तो परेशानी होगी। इस पुल के समानांतर पश्चिम में अगर फोर लेन पुल का निर्माण होता है तो उसे एप्रोच रोड की समस्या नहीं होगी। दक्षिणी हिस्से में एलिवेटेड रोड, बांकीपुर-दानापुर रोड और नहर के समानांतर बन रहा रोड मिलेगा। इसी तरह उत्तरी छोर में हाजीपुर-छपरा फोर लेन की संपर्कता मिलेगी।

गांधी सेतु के जर्जर सुपर स्ट्रक्चर तोड़े जाने को गुरुवार को अनुमति मिल गयी है। निर्माण कंपनी को फिलहाल हाजीपुर से पटना आने वाले लेन के पाया नंबर एक से 12 के बीच बंद लेन का सुपर स्ट्रक्चर तोडना है।