मेरठ पुलिस के हाथ लगी कामयाबी नेपाली गैंग गिरफ्तार

मेरठ पुलिस ने भारत के अलग-अलग शहरों में लूट और चोरी की वारदातों को अंजाम देने वाले इंटरनेशनल नेपाली गैंग की गिरफ्तारी की है। पुलिस ने 3 दर्जन से अधिक वारदातों का खुलासा किया है जो इस गैंग ने दिल्ली एनसीआर और वेस्ट यूपी के दर्जन भर जिलों में अंजाम दी थी।

सीसीटीवी कैमरे की वीडियो में चहलकदमी के बाद एक घर में चोरी की वारदात को अंजाम देते ये बदमाश विदेशी है। नेपाल के कैलाली जिले में रहने वाले इन बदमाशो ने आजकल मेरठ के टीपीनगर में अपना ठिकाना बना रखा था। कामकाज के नाम पर ये नौकर बनकर कोठियों और फैक्ट्रियों में रैकी करते थे और फिर माल का पता लगने पर चोरी और लूट की वारदातें करके भाग जाते थे।

पुलिस को इन गैंग का सुराग उस वक्त हुआ जब एक चोरी के बाद टीपीनगर के एक घर में लगे सीसीटीवी कैमरे के वीडियो में ये बदमाश कैद हो गये। पुलिस ने हुलिया के आधार पर जब इलाके में तलाशी अभियान शुरू कराया तो किराये के मकान में रह रहा भोले, प्रकाश और किशन नैपाली पकड़े गये। इनके पास से पुलिस ने बड़ी तादात में लूट और चोरी के गहने और नकदी बरामद की है। पुलिस को इस गैंग के सरगना किशोरी नैपाली की भी तलाश है।

पुलिस की पूछताछ में दिल्ली, गुड़गाँव, एनसीआर और वेस्ट यूपी के कई जिलों में हुई चोरी और लूट की वारदातो का खुलासा हुआ है। पुलिस को किशोर नैपाली की इसलिए भी तलाश है क्योंकि इस गैंग के नेटवर्क से जुड़े बड़े सुराग किशोर नैपाली के पास है।