नेपाल ने अपने नागरिक की हत्या के लिए भारत को भेजा ‘डिप्लोमैटिक नोट’

काठमांडू। नेपाल ने भारत को कथित तौर पर भारत के सशस्त्र सीमा सुरक्षा बल के द्वारा अपने एक नेपाली नागरिक की हत्या किए जाने को लेकर शुक्रवार को डिप्लोमैटिक नोट भारतीय सरकार को भेजा है।

नेपाली के अधिकारियों की मानी जाए तो ”नेपाली नागरिक गोविंदा गौतम की मौत गुरुवार को नेपाल-भारत सीमा पर एसएसबी कर्मियों की गोलीबारी से हुई। यह गोलीबारी नो मैन्स लैंड में एक पुलिया के निर्माण के विवाद को लेकर की गई।”


नेपाल के विदेश मंत्रालय कार्यालय ने एक बयान में कहा कि नेपाल के विदेश सचिव शंकर दास बैरागी ने भारतीय दूतावास के उप प्रमुख बिनय कुमार को तलब किया और उन्हें डिप्लोमैटिक नोट सौंपा। उन्होंने कहा कि नेपाल सरकार इस घटना की निंदा करती है और जांच की मांग करती है। नेपाल ने भारत से सीमा पर भविष्य में इस तरह की शत्रुतापूर्ण गतिविधियों को बंद करने का आग्रह किया।

इस घटना को लेकर कूटनीतिक गतिविधियां तेज हुई। सत्तारूढ़ गठबंधन में साझीदार सीपीएन (माओवादी सेंटर) और दूसरे राजनीतिक दलों द्वारा विरोध प्रदर्शन किए जाने के बाद नेपाल और भारत में शीर्ष नेतृत्व ने गुरुवार और शुक्रवार को कई कूटनीतिक बैठके कीं। विदेश सचिव बैरागी और कुमार की मुलाकात के बाद भारतीय दूतावास ने बताया कि कुमार ने गुरुवार को नेपाली नागरिक की मौत पर अपनी संवेदना जाहिर की।