ओलम्पिक फाइनल में किस बात से घबराए थे नेमार

रियो डी जनेरियो। ब्राजील के स्टार स्ट्राइकर नेमार ने कहा है कि इसी साल रियो ओलम्पिक के फाइनल में जर्मनी के खिलाफ पेनाल्टी किक लगाना उनके अब तक के करियर का सबसे बेचैन करने वाला पल था। ओलम्पिक के फाइनल में नेमार ने पेनाल्टी को गोल में बदल कर अपनी टीम को 5-4 से जीत दिलाई थी। निर्धारित समय में मैच का परिणाम 1-1 रहा था।

वेबसाइट ‘ईएसपीएनएफसी’ ने नेमार के हवाले से लिखा है, “मुझे वो कदमताल याद है। वह मेरे जीवन का सबसे बेचैन करने वाला पल था। मैं इसके सिवा कुछ सोच ही नहीं पा रहा था कि मैं गेंद कहां मारूं।” नेमार ने कहा, “भगवान ने मुझे ताकत दी और मैं गोल करने में कामयाब रहा।” नेमार ने मराकाना स्टेडियम में ब्राजील के पूर्व फुटबाल खिलाड़ी जिको द्वारा आयोजित चैरिटी मैच के दौरान यह खुलासा किया।