ताज मानसिंह की लीज टाटा को देने पर दोबारा विचार करे एनडीएमसी: सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली। दिल्ली के ताज मानसिंह होटल की नीलामी के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने एनडीएमसी को टाटा ग्रुप की लीज ना बढ़ाने के फैसले पर पुनर्विचार करने को कहा है। कोर्ट ने कहा कि इस मामले में एनडीएमसी लॉ अफिसर्स की राय को दबाया गया, जिसमें टाटा ग्रुप को लीज बढ़ाने को कहा गया था। कोर्ट ने कहा कि एनडीएमसी छह हफ्ते में फैसला लेकर कोर्ट में रिपोर्ट दाखिल करे ।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि होटल की नीलामी के लिए टाटा ग्रुप को सबसे पहले मौका दिया जाए। अगर वह लाइसेंस के लिए नीलामी में तय रकम नहीं दे पाए तो इसके बाद जो बड़ी बोली लगाए, उसे लीज ट्रांसफर की जाए। सुप्रीम कोर्ट ने 21 नवंबर को टाटा समूह को राहत देते हुए होटल ताज मान सिंह होटल की नीलामी करने के दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले पर रोक लगा दी थी । कोर्ट ने होटल ताज मानसिंह को 31 मार्च के बाद की भी बुकिंग करने की अनुमति दी थी । कोर्ट ने कहा था कि चलते हुए बिजनेस पर रोक नहीं लगा सकते।

उल्लेखनीय है कि दिल्ली हाईकोर्ट में टाटा ग्रुप की इंडियन होटल्स कंपनी लिमिटेड (आईएचसीएल) ने इस नीलामी के खिलाफ याचिका दायर की थी। जिसे 27 अक्टूबर को दिल्ली हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया था और एनडीएमसी को होटल की नीलामी करने को हरी झंडी दे दी थी। जिसके बाद कंपनी ने सुप्रीम कोर्ट में हाईकोर्ट के आदेश को चुनौती दी है।