NDMC का सालाना बजट पेश, 417 करोड़ के सरप्लस का दावा

नई दिल्ली। नगर पालिका परिषद (एनडीएमसी) ने वित्तीय वर्ष 2016-17 के अन्तर्गत लक्ष्य पूरे कर लेने का दावा किया है। इसके साथ ही परिषद ने अपने पास 417.28 करोड़ का सरप्लस होने की भी बात कही है।


एनडीएमसी के 2017-18 के बजट में अनुमानित कुल प्राप्तियों का लक्ष्य 3404.51 करोड़ है जबकि संशोधित अनुमान 2016-17 में कुल व्यय का लक्ष्य 3296.25 करोड़ तय किया गया है। परिषद ने दावा किया है कि उसने वित्तीय वर्ष 2016-17 के दौरान संपत्ति कर में कोई इजाफा नहीं किया। इसके बावजूद लक्ष्य से ज्यादा कर जमा हुआ है। परिषद ने 525 करोड़ की संपत्ति कर वसूली का लक्ष्य रखा था जबकि 561.29 करोड़ की वसूली हुई। जो लक्ष्य से 6.91 प्रतिशत ज्यादा है तथा पिछले साल की तुलना में 16.94 प्रतिशत ज्यादा है।

एनडीएमसी ने बिजली एवं पानी के बिलों में 1334.13 करोड़ के तय लक्ष्य की तुलना में 1340.50 करोड़ रुपये वसूले हैं। इतना ही नहीं बिजली खरीद के र्मोचे पर भी परिषद ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। पहले जहां 1000 करोड़ का बिजली का बिल आता था तो वहीं अब 830.93 करोड़ बिजली का बिल आया है ये एक बड़ी उपलब्धि है। इसके अलावा एनडीएमसी ने लाइसेंस शुल्क एवं अन्य आय के माध्यमों द्वारा 444.28 करोड़ रुपये अर्जित किये जो गत वर्ष की तुलना में 7.25 करोड़ अधिक हैं। सालाना बजट में एनडीएमसी दो नए अस्पताल बनवाने का प्रस्ताव सामने रखा है।