बैठकों का रविवार: राष्ट्रपति चुनाव में रणनीति को अंतिम रूप देने के लिए हो रही कई बैठकें

नई दिल्ली,। राष्ट्रपति चुनाव में अब 1 दिन का समय बाकी है। सोमवार से मानसून सत्र भी प्रारम्भ हो रहा है। इसके चलते रविवार रणनीति को अंतिम रूप देने के लिए कई बैठकें हो रही हैं। रविवार को तीन अहम बैठक यहां दिल्ली में आयोजित होंगी। सुबह 11 बजे संसदीय कार्यमंत्री अनन्त कुमार ने बैठक बुलाई है। शाम 5 बजे एनडीए सांसदों की अहम बैठक है। शाम 7 बजे लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है।

NDA, Ananth Kumar,Sumitra Mahajan, meeting, presidential election
Presidential election meeting

 

इसी सिलसिले में एक अहम बैठक रविवार शाम 5 बजे संसद भवन में एनडीए के सभी सांसदों की बुलाई गई है। संभावना जताई जा रही है कि इस बैठक के बाद एनडीए अपने उपराष्ट्रपति उम्मीदवार की घोषणा करेगा। दरअसल विपक्षी पार्टियों ने पहले ही महात्मा गाँधी के परपोते गोपाल कृष्ण गांधी को उतार दिया है। इस बैठक में एनडीए राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी हिस्सा लेंगे। लोकसभा अध्यक्ष की बैठक से पहले सुबह 11 बजे संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। हालांकि तृणमूल इस बैठक के बहिष्कार का ऐलान कर चुकी है लोकसभा अध्यक्ष की सर्वदलीय बैठक लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने संसद का मानसून सत्र शुरू होने से एक दिन पहले रविवार को एक सर्वदलीय बैठक बुलाई है। बैठक संसद की लाइब्रेरी बिल्डिंग में शाम 7 बजे होगी।

बता दें कि लोकसभा सचिवालय के अनुसार, लोकसभा में विभिन्न पार्टियों के नेताओं की बैठक संसद की लाइब्रेरी बिल्डिंग में होगी। लोकसभा अध्यक्ष की बैठक से पहले सुबह 11 बजे संसदीय कार्यमंत्री अनंत कुमार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है। हालांकि तृणमूल इस बैठक के बहिष्कार का ऐलान कर चुकी है लेकिन पार्टी शाम को लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की ओर से बुलाये गए सर्वदलीय बैठक में अपने प्रतिनिधि को भेजेगी।

दरअसल सर्वदलीय बैठक में महाजन 11 अगस्त को समाप्त होने वाले मानसून सत्र से पूर्व प्रथागत बैठक में सभी राजनीतिक दलों से निचले सदन के कामकाज के सुचारू संचालन में सहयोग देने का आग्रह करेंगी। विपक्षी पार्टियां सीमा पर चीन के साथ विवाद, कश्मीर की स्थिति, किसानों के रोष और वस्तु एवं सेवा कर समेत कई मुद्दों पर सरकार को घेरने के लिए तैयार हैं। उल्लेखनीय है कि दो सांसदों विनोद खन्ना (लोकसभा) और पी. गोवर्धन रेड्डी (राज्यसभा) के निधन के कारण संसद के दोनों सदनों में सत्र के पहले दिन (17 जुलाई) को कोई कामकाज होने की संभावना नहीं है। उसी दिन नए राष्ट्रपति के चयन के लिए मतदान होना है, जिसमें 776 सांसद अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते हैं।