मोदी के कैबिनेट में डॉ. वीरेंद्र कुमार खटीक को भी मिली जगह, साइकिल का लगाते थे पंक्चर

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कैबिनेट में मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ के बीजेपी सासंद डॉ. वीरेंद्र कुमार खटीक भी शामिल हुए हैं। बता दें कि खटक अपने पिता के साथ साइकिल का पक्ंचर बनाया करते थे। मीडिया का कहना है कि वो आज भी अपने पुराने हरे रंग के स्कूटर पर ही सफर करते हैं। वहीं दलित समुदाय से आने वाले 63 साल के वीरेंद्र कुमार संघ, विहिप और बीजेपी के विभिन्न पदों पर रह चुके हैं। उन्होंने 1996 में पहली बार लोकसभा का चुनाव जीता था और इसके बाद अगले तीन लोकसभा चुनाव में भी सागर से जीत हासिल की।

virendra kumar khatik
virendra kumar khatik

बता दें कि लोकसभा सीट के नए परिसीमन के बाद वे टीकमगढ़ से चुनाव जीते। मध्य प्रदेश सरकार में वनमंत्री गौरीशंकर शेजवार उनके जीजा हैं। पिता से पंक्चर बनाना सीखने के बाद उन्होंने दुकान की जिम्मेदारी भी संभालना शुरू कर दिया। इस दौरान वे पढ़ाई भी कर रहे थे। उन्होंने अर्थशास्त्र में एमए और चाइल्ड लेबर में पीएचडी किया। जेपी आंदोलन के दौरान वीरेंद्र 16 महीने जेल में भी रहे थे। वे कुल 6 बार लोकसभा का चुनाव जीते हैं। संसद की स्टैंडिंग कमेटी के भी वे सदस्य हैं।