पास हुई नैनी सैनी हवाई पट्टी उतरा करेंगे हवाई जहाज :पिथौरागढ़

परीक्षा में पास हुई पिथौरागढ़ की नैनी सैनी हवाई पट्टी पर अब जल्द ही विमान सेवा शुरू कर दी जाएगी। तेज रफ्तार वाले विमानों के उतारने के लिए हवाई पट्टी का रन-वे उपयुक्त पाया गया है। रविवार को भारतीय विमान पत्त्तनम प्राधिकरण दिल्ली की तरफ से जीपीएस उपग्रह से लैस गियरलेस स्वीडिश वाहन ने परखा और सफल करार दे दिया है।


स्वीडिश वाहन शनिवार को पिथौरागढ़ पहुंचा था। रविवार को रन-वे पर विमान के उतरने पर होने वाले घर्षण को जांचा गया। वरिष्ठ अधीक्षक विक्रम सिंह, सुपर वाइजर कुलदीप सिंह, वरिष्ठ अधीक्षक धर्मवीर और तकनीकी विशेषज्ञ विनोद कुमार ने सुबह से ही नैनी सैनी हवाई पट्टी रन-वे में घर्षण परीक्षण को मापने को कवायद प्रारंभ कर दी थी । इस मौके पर 1600 मीटर के रन वे पर 100 से लेकर 150 किमी प्रति घंटा तक के विमानों के उतरने की जांच भी की गई।
जांच के करते वक्त विशेषज्ञों ने पट्टी का हाइड्रोलिक प्रेशर एवरेज उपयुक्त बताया है।
यह दल अब अपनी रिपोर्ट को एयरपोट ऑथारिटी ऑफ इंडिया को सौंपेगा देगा। उन्होंने बताया है की रन वे की घर्षण क्षमता को नापने आए जीपीएस उपग्रह से लैस स्वीडिश वाहन को ट्रॉले में लाया गया था। विशेषज्ञों ने बताया कि देश में अभी तक सभी जगहों पर इस वाहन के चलने योग्य सड़क नहीं होने के कारण इसे ट्राले में ही लाया जाता है।