धार्मिक नजरिए से न देखे झारखंड हत्याकांड को: नायडू

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने शुक्रवार को झारखण्ड में गोमांस ले जाने के संदेह पर एक व्यक्ति की हत्या की कड़ी निंदा की है। उनका कहना है कि मामले को धार्मिक नज़रिए से नहीं देखा जाना चाहिए। नायडू ने कहा, ‘इसकी सभी निंदा कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने स्वयं इस बारे में दूसरी बार कहा है। देश के विभिन्न हिस्सों से ऐसी घटनायें सामने आ रही हैं। यह वास्तव में शर्मिंदा करने वाला, बर्बर और नृशंस है।

उन्होंने पुलिस सहित अन्य कानून का पालन कराने वाली एजेंसियों से जिला और राज्य स्तर पर इसके खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करने को कहा ताकि भविष्य में इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति न हो। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि गोरक्षा के नाम पर लोगों की हत्या स्वीकार नहीं है।

उनकी टिप्पणी कथित गोरक्षकों द्वारा किए गए हालिया हमलों और विरोध प्रदर्शनों की पृष्ठभूमि में आई थी। महात्मा गांधी के गुरू श्रीमद राजचंद्रजी की 150वीं जयंती और साबरमती आश्रम के शताब्दी वर्ष समारोह के मौके पर मोदी ने अपने संबोधन के दौरान यह बात कही।

वहीं झारखंड के रामगढ़ में गुरुवार को कथि‍त गोरक्षकों ने गोमांस ले जाने के शक में एक वैन ड्राइवर की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। जानकारी के मुताबिक, एक मारुति वैन में बड़ी मात्रा में मांस लेकर कुछ लोग चितरपुर से नई सराय जा रहे थे। इस बीच रामगढ़ बाजार टांड के पास लोगों ने इस गाड़ी को रोककर मांस को सड़क पर फेंक दिया और गाड़ी में आग लगा दी। इन लोगों ने ड्राइवर मोहम्मद असगर को भी बुरी तरह से पीटा, जिसके बाद उसने रांची के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया।