मैच जीतने के बाद कप्तान कोहली ने की बुमराह और नेहरा की तारीफ

नागपुर। घरेलू मैदान पर पिछले एक वर्ष से लगातार अजेय चल रही भारतीय टीम ने टी-20 सिरीज में हार के खतरे को टाल दिया है। तेज गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बल पर टीम इंडिया ने इंग्लैंड टीम के मुंह से जीत को छीन लिया। नागपुर के विदर्भ क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेले दूसरे टी20 मुकाबले में भारत ने इंग्लैंड को पांच विकेट से हरा दिया है। भारत के लिए सबसे सफल गेंजबाद आशीष नेहरा रहे जिन्होंने 28 देकर तीन विकेट झटके।

वैसे इंग्लैंड टीम की शुरुआत भी ठीक नहीं थी। दोनों सलामी बल्लेबाज पारी के चौथे ओवर में लगातार दो गेंदों पर आउट हो गए। पहले सैम बिलिंग 10 रन पर, फिर जेसन रॉय 12 रन बनाकर आशीष नेहरा के शिकार बने। इसके बाद, जो रूट के साथ मिलकर कप्तान इयान मॉर्गन (17 रन) ने पारी को संभालने की कोशिश की। मगर 11वें ओवर की पहली ही गेंद पर अमित मिश्रा ने पांड्या के हाथों मॉर्गन को कैच करा पैवेलियन की राह दिखा दी। इसके बाद, चौथे विकेट के लिए रूट और स्टोक्स के बीच 52 रन की बेहतरीन साझेदारी हुई। तब मैच के 17वें ओवर के लिए कप्तान कोहली ने नेहरा पर भरोसा किया और नेहरा ने फिर से भारत की झोली में विकेट डाल दिया। इसके बाद नेहरा ने बेन स्टोक्स को पगबाधा करार किया। आउट होने से पहले स्टोक्स ने दो चौको और दो छक्कों की मदद से 27 गेंदों में 38 रन की पारी खेली। बाद में विकेटकीपर बल्लेबाज जॉश बटलर ने तेजतर्रार शॉट लगाते हुए 10 गेंदों में 15 रन बनाए लेकिन टीम को जीत नहीं दिला सके। इंग्लैंड टीम निर्धारित 20 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर मात्र 139 रन ही बना सकी।

इससे पहले, टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम 20 ओवरों में सिर्फ 144 रन ही बना सकी। भारत के लिए सबसे ज्यादा केएल राहुल ने 71 रन बनाए। राहुल का थोड़ा साथ मनीष पांडेय (30 रन) और कप्तान कोहली ने 21 रन बना कर दिया। जबकि शेष बल्लेबाजों में कोई भी दहाई का आंकड़ा पार नहीं कर सके। सुरेश रैना आज के मुकाबले में पूरी तरह से फ्लॉप रहे, उन्हें महज 7 रन पर आदिल रशिद ने क्रिसे जॉर्डन के हाथों कैच आउट करवाया। वहीं, युवी ने इस मैच में भी निराश किया और सिर्फ 4 रन बनाकर मोइन अली की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए। पूर्व कप्तान धोनी भी कुछ खास नहीं कर सके और पांच रन बनाकर जॉर्डन का शिकार बने।