नगालैंडः नगालैंड के सीएम शुरहोजेली लिजित्सू शक्ति परीक्षण के लिए विधानसभा नहीं पहुंचे

नगालैंड। राज्यपाल पीबी आचार्य के निर्देश पर बुधवार को आहूत नगालैंड विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए मुख्यमंत्री डॉ. शुरहोजेले लिजित्सू नहीं पहुंचे। इसके कारण अध्यक्ष ने विस की कार्रवाई को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया। गौहाटी हाईकोर्ट की कोहिमा बेंच के फैसले के बाद राज्यपाल ने मुख्यमंत्री को विधानसभा में अपना बहुमत साबित करने के लिए आज 9.30 बजे का समय मुकरर्र किया था।

nagaland, cm, skips floor, test, vidhan sabha, Governor PB Acharya
nagaland cm

बता दें कि इससे पहले बीते मंगलवार को दिन में गौहाटी उच्च न्यायालय की कोहिमा पीठ के न्यायाधीश न्यायमूर्ति एल एम जमीर ने लिजित्सू की रिट याचिका ठुकरा दी जिसमें उन्होंने विधानसभा में विश्वासमत हासिल करने के राज्यपाल के निर्देश पर रोक लगाने की मांग की थी। अदालत ने यह कहते हुए याचिका खारिज कर दी कि इसमें कोई दम नहीं है और इसके साथ ही निर्देश देने के अपने अंतरिम आदेश को रद्द कर दिया और मामले को राज्यपाल के विवेकाधिकार पर छोड़ दिया।

कोर्ट का कहना है कि इस अदालत की राय है कि राज्यपाल ने यह देखने के लिए याचिकाकर्ता (लिजित्सू ) को सदन में शक्ति परीक्षण के लिए कहकर सही फैसला किया कि मुख्यमंत्री पद के दावे के लिए सदन में किसके पास बहुमत है.” अदालत ने यह भी कहा कि मामले में मुख्यमंत्री को राज्यपाल के निर्देश में दखल देने का कोई कारण नहीं है. मुख्यमंत्री ने 14 जुलाई को याचिका दायर की थी और अदालत ने राज्यपाल के निर्देश पर कल तक रोक के लिए अंतरिम आदेश जारी किया था ताकि मामले की सुनवाई की जा सके।