मुजफ्फरनगर जेल में बवाल, बंदियों ने की तोड़फोड़

मुजफ्फरनगर। गणतंत्र दिवस के दिन जेल में चल रहे समारोह के समय कुख्यात राहुल खट्टा को शरण देने के आरोप में बंद कुख्यात बदमाश के पास एक डिवाइस मिलने के बाद बवाल हो गया। बंदी की पिटाई से क्षुब्ध करीब डेढ़ सौ कैदियों ने हंगामा करते हुए जेल के अंदर बने जेलर कक्ष में तोड़फोड़ कर आधा दर्जन जेल सिपाहियों से हाथापाई भी कर दी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे भारी पुलिस व अर्द्धसैनिक बलों ने स्थिति पर काबू पाया।

मुजफ्फरनगर की जिला जेल में करीब 12 बजे जब गणतंत्र दिवस समारोह चल रहा था तो उसी समय राहुल खट्टा के शरण देने में जेल में बंद एक बदमाश के पास मोबाइल में लगाने वाली चिप मिली। उससे मोबाइल के संबंध में पूछताछ किए जाने के समय जेल कर्मियों ने मारपीट कर दी। इससे बंदी भड़क उठे और उन्होंने बवाल करते हुए बैरकों से निकलकर जेल के सिपाहियों को दौडा लिया। करीब डेढ़ सौ बंदियों ने जेल में बने जेलर ड्यूटी कक्ष में पहुंचकर तोड़फोड़ की और आठ जेल सिपाहियों से हाथापाई की। बंदियों ने मुख्य द्वार की ओर आने का प्रयास किया पर वह अंदर वाला गेट नही खोल पाएं।

उधर, जेल में हंगामे के समय पुलिस लाइन में चल रहे गणतंत्र दिवस समारोह में डीएम और एसएसपी समेत सभी प्रमुख अधिकारी मौजूद थे। एडीएम प्रशासन और एसपी सिटी राजेश कुमार सिंह भारी पुलिस बललेकर जेल मं पहूच गए। चूनाव के मद्देनजर यहां आया अर्द्धसैनिक बल भी जेल पहुंच गया। करीब आधे घंटेे की कोशिश के बाद अधिकारियों ने फोर्स की सहायता से स्थिति पर काबू पा लिया।

गुलफाम, संवाददाता