बारिश नहीं होती तो जीत जाते: मुथैया मुरलीधरन

बेंगलूरु। टीम के क्वालीफायर होने के बाद भी मुथैया मुरलीधरन ने टीम के प्रदर्शन पर संतुष्टी जताते हुए कहा कि कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ उनका क्वालीफायर मैच अगर वर्षाबाधित नहीं होता तो उनकी टीम आईपीएल फाइनल में पहुंच सकती थी। दूसरे क्वालीफायर में पहले गेंदबाजी करते हुए केकेआर ने सनराइजर्स को सात विकेट पर 128 रन पर रोक दिया। इसके बाद छह ओवर में 48 रन का लक्ष्य आसानी से हासिल कर लिया।

बता दें कि मुरलीधरन ने मैच के बाद प्रेस काफ्रेंस में कहा कि बेंगलूरु के विकेट पर बड़े स्कोर नहीं बन रहे थे। हमारा स्कोर बुरा नहीं था। अगर हम कुछ रन और बना पाते और दो तीन विकेट ले लेते तो हमारे पास 20 ओवर के मैच में जीतने का मौका होता। उन्होंने कहा कि उनकी टीम 10 रन पीछे रह गयी। उन्होंने कहा कि विकेट शाट खेलने के लिए बहुत अच्छा नहीं था क्योंकि यदि शाट खेलते तो 70 – 80 रन पर आउट हो जाते।

वहीं हम 140 रन बनाने की सोच रहे थे और अगर पूरे 20 ओवर का मैच होता तो हम बराबरी की स्थिति में होते। हम 10 रन पीछे रह गए। मुरलीधरन ने कहा कि हमने इस सत्र में देखा है कि 130 रन बनाकर भी टीमें मैच जीती हैं। उन्होंने कहा कि उनकी टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि बारिश को लेकर आप कोई शिकायत नहीं कर सकते लेकिन हमने पूरे सत्र में अच्छा खेला। अगले साल हम इसी टीम के साथ वापसी करके ट्राफी पर पुख्ता दावा करेंगे।