जानिए क्या है जलेबी का इंग्लिश वर्जन

नई दिल्ली। भारत में जलेबी और दूध को नाश्ते में खाने की परंपार सदियों से चली आ रही है। ग्रामीण इलाकों में दूध और जलेबी का नाश्ता सबसे बेहतरीन माना जाता है। सिर्फ भारत ही नहीं विश्व के कई देश ऐसे हैं जहां पर जलेबी को लोग बड़े चाव से खाते हैं। कई लोगों का तो मानना है कि जो मजा जलेबी को दूध और दही के साथ खाने में आता है शायद वो कहीं नहीं आ सकता।

जलेबी खाना सबको पंसद है लेकिन इसके बारे में कुछ खास जानकारियां जिसके बारे में शायद आपने ना तो कहीं सुनी होगी और ना ही कहीं पढ़ी होगी। तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि जलेबी का इंग्लिश वर्जन क्या है और भारत के अलावा इसे कौन से देश में किस नाम से बुलाय़ा जाता है।

जलेबी भारत में 500 साल पहले आई थी और उसे संस्कृत भाषा में सुधा कुंडलिका कहते हैं

जलेबी को अंग्रेजी भाषा में स्वीटमीट (sweetmeats) कहते हैं

कुछ लोग इसे जल वल्लिका के नाम से जानते थे।

13वीं शताब्दी के तुर्की मोह्हमद बिन हसन की किताब में जलाबिया का जिक्र है जो जलेबी ही थी।

जिस तरह भारत के लोग जलेबी को दूध के साथ खाना पसंद करते है ठीक उसी तरह अफगानिस्तान के लोग जलेबी को मछली के साथ खाना पसंद करते हैं।

मुम्बई के एक होटल में 18 किलो वजन वाली जलेबी बनाई गयी जो एक विश्व रिकॉर्ड है। इसके बाद इतनी बड़ी और इतनी भारी जलेबी किसी ने नहीं बनाई है।