यूपी में मुस्लिम किसान ने भी दी मोदी की रैली के लिए जमीन

बहराइच। उत्तर प्रदेश के बहराइच जनपद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रस्तावित रैली के लिए विश्वरिया गांव में 120 बीघा जमीन की जरूरत थी। कुछ जमीन कम पड़ रही थी तो आसपास के किसानों से भाजपा नेताओं ने संपर्क साधा। किसान सहज तैयार हो गए। इनमें एक मुस्लिम किसान भी शामिल है, जिसने चार बीघा जमीन दी है। यहां के किसानों का कहना है कि प्रधानमंत्री देश को दुरुस्त कर रहे तो वह उनका स्वागत अपनी फसल दान कर करेंगे। देश दुरुस्त होगा तो फसल अगले साल फिर पैदा कर लेंगे।

o

प्रधानमंत्री की परिवर्तन रैली 11 दिसंबर को प्रस्तावित है। इसके लिए जिले में तैयारियां चल रही हैं। नानपारा-बहराइच मार्ग पर बेगमपुर के निकट विश्वरिया गांव के मैदान को प्रधानमंत्री की रैली के लिए प्रस्तावित किया गया है। इस रैली स्थल को शासन ने भी हरी झंडी दे दी है। जिलाधिकारी, एसपी, डीआईजी भी प्रस्तावित रैली स्थल का मुआयना कर चुके हैं। रैली के लिए लगभग 120 बीघा परिक्षेत्र (10 हेक्टेयर) की जरूरत है। मैदान लगभग चार हेक्टेयर का था। ऐसे में भाजपा जिलाध्यक्ष श्यामकरन टेकड़ीवाल व पदाधिकारियों ने किसानों के खेत को रैली स्थल के लिए प्रयोग करने के लिए उनकी सहमति मांगी।

विश्वरिया गांव के किसान सहर्ष तैयार हो गए। लगभग चार किसानों की जमीन रैली स्थल में शामिल की जा रही है। इनमें एक नाम सहजादे का भी है। सहजादे की चार बीघा अरहर की फसल लगी हुई है। सहजादे इस फसल को स्वयं कटवा रहे हैं।