सपा में फिर बढ़ी कलह की संभावनाएं, मुलायम सिंह बना सकते हैं नई पार्टी

यूपी। सूबे में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी में चल रहा कलह कुछ वक्त के लिए तो शांत हो गई थी लेकिन अब फिर से वह बढ़ती हुई दिखाई दे रही है। विधानसभा चुनाव के वक्त सपा में के दो फाड हो गए थे। ऐसे माना जा रहा था कि मुलायम सिंह यादव अपनी अगल पार्टी बना सकते हैं। हाल ही में कन्नौज में शिवपाल यादव ने कहा था कि मुलायम सिंह यादव का अपमान और नहीं सहा जाएगा।

mulayam singh

दो फाड होने के बाद राजनीति से शिवपाल यादव ने खुद को पूरा अलग कर लिया था। माना जा रहा है कि मुलायम सिंह यादव को आगे रख कर शिवपाल यादव अपना नया दाव खेल सकते हैं क्योंकि कलह के बीच अखिलेश यादव और शिवपाल यादव के बीच में दूरियां काफी बढ़ गई थी। ऐसे में सूत्रों के हवाले से खबर है कि अखिलेश समर्थक शिवपाल पर भरोसा नहीं करना चाहते हैं।

वही अब अखिलेश यादव ने 23 सितंबर को लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर मैदान में सपा का प्रादेशक सम्मेलन बुलाया है। इसके बाद 5 अक्टूबर को आगरा में सपा राष्ट्रीय अधिवेशन को बुलाया गया है। माना जा रहा है कि अखिलेश यादव बैठकों के जरिए पार्टी में अपनी पकड़ को मजबूत करना चाहते हैं। लेकिन इन बैठकों के लिए जो पोस्टर लगाए गए हैं उनमें ना ही शिवपाल दिखाई दे रहे हैं और ना ही मुलायम सिंह यादव दिखाई दे रहे हैं। इसलिए माना जा रहा है कि मुलायम और शिवपाल एक अलग ही पार्टी बना सकते हैं।