सास ने बहू को दिलाया इंसाफ, हत्यारे बेटे को कराया गिरफ्तार

नई दिल्ली। ऐसा बहुत कम देखने या सुनने को मिलता है कि किसी सास ने बेटे का साथ न देकर बहू का साथ दिया। ऐसी एक कहानी है इस सास की जिसने बहू की हत्या करने वाले अपने बेटे के पुलिस के हवाले कर दिया। बेटे मां को बीवी की हत्या की बात इस भरोसे पर बताई थी। क्योंकि उसको लगता था कि एक मां ही होती है जो बेटे की बड़ी से बड़ी गलती को भी माफ कर देती है। कहीं न कहीं उसे ये भी लग रहा था कि उसकी मां उसे पुलिस के हवाले नहीं करेगी। लेकिन इस मां ने ऐसी मिसाल कायम कर दी कि आज के वक्त में जिसे करना हर मां के लिए मुश्किल होगा। उसने बेटे का मोह छोड़कर बहू को इंसाफ दिलाया और बेटे को पुलिस के हवाले कर दिया।

बता दें कि ये घटना कंझावला इलाके की है। जहां मनोज और कोमल का शादी के बाद एक साथ रहना मुश्किल हो गया था। दोनों के बीच अब कोई बात नहीं बन पा रही थी। मनोज एक परचून की दुकान करता है। मनोज और कोमल के बीच  झगड़ा इतना बढ़ गया कि कोमल मायके चली गई थी। मनोज ने उसे कई बार फोन करके बुलाने की कोशिश की लेकिन कोमल नहीं आई। बीते शुक्रवार को कोमल सूट सिलवाने रघुवीर नगर चली गई वहीं पर उसकी बड़ी बहन का घर था। उसाी वक्त मनोज ने कोमल को फिर फोन किया। मनोज के इरादों से अंजान कोमल मनोज से मिलने चली गई। वहां से मनोज उसे पार्क ले गया। मनोज पर आरोप है कि जंगल की तरफ ले जाकर मनोज ने कोमल का दबा कर उसकी हत्या कर दी और शव को झाड़ियों में फेक दिया। मनोज ने कोमल की हत्या करने के लिए दो दिन पहले की इंतजाम कर रखा था।

कोमल और मनोज ने दो साल पहले लव मैरिज की थी। पुलिस का कहना है कि मनोज से पुछताछ में पता चला कि मनोज ने कोमल को समझाने और उसे सासूराल लौटने के लिए बुलाया था। लोकिन कोमल नहीं मानी और उसने उसकी हत्या कर दी। शादी के बाद से ही मनोज कोमल को चरित्र पर शक करने लगा था। जिसके चलते कोमल ने घर छोड़ाल था। मनोज ने हत्या की जानकारी मां को दी तो मां ने पुलिस को बुलाकर मनोज को पुलिस को हवाले कर दिया। पुलिस शव बरादमद करने पहुंची तो उन्हें कोमल की लाश नहीं मिली। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है हत्या में तान और लोगों के शामिल होने का शक है।