दिल्ली विधानसभा में बंदरों का कहर, नगर निगम से मांगी मदद

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा ने बंदरों से परेशान होकर नगर निगम से मदद मांगी है। ताकि बंदरों को दूर रखा जा सके और परिसर में विधायक बंदरों के डर के बिना काम कर सके। करीब दस दिन पहले ही एक बंद विधानसभा में घुस आया था। जिसकी वजह से काफी उत्पाद मचा था। उस वक्त विधायक अतिथि शिक्षक के मुद्दे पर बात कर रहे थे। इसी दौरान अपने बीच बंदर को देख कर विधायक हैरान रह गए। इस घटना के बाद विधानसभा ने ये कदम उठाया है।

monkey, problem, delhi assembly, snake, Ram Niwas Goyal
delhi assembly

बता दें कि दिल्ली विधानसभा में 17 जुलाई को भी बंदरों ने राष्ट्रपति चुनाव के मतदान के दौरान पत्रकारों और सुरक्षबलों के तंबू को फाड़ दिया था। 70 सदस्यीय सदन के अंदर न सिर्फ बंदरों को बल्कि सांपों को भी कई बार रेंगते हुए देखा गया है। विधानसभा अध्यक्ष राम निवास गोयल का कहना है कि अक्सर विधायकों और विधानसभा के कर्मचारियों को बंदरों द्वारा काटे जाने का डर लगा रहता है।

वहीं इस मामले में मैं उत्तर दिल्ली नगर निगम (एनडीएमसी) को पत्र लिखूंगा कि वे विधानसभा में अपने दलों को भेजें और बंदरों को पकड़े। उन्होंने कहा कि एनडीएमसी बंदरों को अन्य स्थानों पर ले जा सकती है। ताकि यहां बिना डर के काम हो सके। गोयल का कहना है कि उन्होंने एनडीएमसी अधिकारियों पहले भी इस मामंले में कुछ करने को कहा गया था। उन्होंने कहा कि सुरक्षा कर्मियों ने कम से कम दो-तीन बार सांपों को देखा है लेकिन उन्होंने खुद कभी नहीं देखा।