डिस्कॉम योजनाओं की मॉनिटरिंग के लिए तीन वर्किंग ग्रुप का गठन

जयपुर डिस्कॉम में चल रहीं विभिन्न योजनाओं एवं कार्यों के क्रियान्वयन की नियमित मॉनिटरिंग के लिए डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक आरजी गुप्ता की अध्यक्षता में तीन वर्किंग ग्रुप का गठन किया है। जयपुर डिस्कॉम प्रबंध निदेशक गुप्ता ने बताया कि डिस्कॉम की वित्तीय स्थिति को सही करने एवं विभिन्न योजनाओं के कार्यों को गति प्रदान करने के लिए इन वर्किंग ग्रुप का गठन किया गया है, ताकि लक्ष्यों के अनुरुप निर्धारित समय में परिणाम प्राप्त किए जा सके।

गुप्ता ने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष में टास्क फोर्स द्वारा निर्धारित 20 प्रतिशत वितरण हानि के अनुमानित लक्ष्य को प्राप्त करने के बावजूद भी वर्ष 2017-18 में अनुमानित हानि 370 करोड़ रुपए रहने का अनुमान है। इस हानि को शून्य स्तर पर लाने के लिए फाईनेन्शियल ब्रेक-इवन प्लान बनाया गया है। इस प्लान के तहत निगम की आय बढ़ाने एवं खर्चों में कमी लाने के लिए एक्शन प्लान बनाया गया है। इस ब्रेक-इवन प्लान के क्रियान्वयन की नियमित मॉनिटरिंग के लिए प्रबन्ध निदेशक की अध्यक्षता में उच्चाधिकारियों का बीईपी वक्रिंग ग्रुप बनाया गया है।

इस वक्रिंग ग्रुप की प्रत्येक बुधवार को बैठक आयोजित होगी। जयपुर डिस्कॉम में चल रही विभिन्न योजनाओं एवं कार्यों को निर्धारित समय में पूरा करने के लिए सामान की पर्याप्त उपलब्धता रहे और इसमें किसी तरह की लापरवाही ना बरती जाए, जिससे कि योजनाओं के कार्यों में देरी न हो। इसको सुनिश्चित करने एवं प्रभावी मॉनिटरिंग के लिए प्रबन्ध निदेशक की अध्यक्षता में मटेरियल मेनेजमेन्ट प्लान वक्रिंग ग्रुप का गठन किया गया है। इस वक्रिंग ग्रुप की बैठक बुधवार को होगी।  उन्होंने बताया कि डिस्कॉम में चल रहे विभिन्न आईटी प्रोजेक्टस की मानिटरिंग के लिए भी प्रबंध निदेशक की अध्यक्षता में एक वर्किंग ग्रुप का गठन किया गया है। इस वक्रिंग ग्रुप की प्रत्येक बुधवार को बैठक आयोजित होगी।