5 साल के बैन के बाद पाकिस्तानी क्रिकेटर ने दिया रोहित को जवाब

नई दिल्ली। चैंपियन ट्रॉफी में कहर बरपाने वाले मोहम्मद आमिर ने क्रिकेट में एक साल बाद फिर एंट्री ले ली है। आमिर ने एक साल बाद रोहित के बयान का जवाब दिया। दरअसल पाकिस्तानी क्रिकेटर मोहम्मद आमिर ने 5 साल के बैन के बाद 2016 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीम में वापसी की है। आमिर ने चैंपियंस ट्रॉफी 2017 के फाइनल में टीम इंडिया के तोज बल्लेबाजों विराट कोहली और शिखर धवन के विकेट लिए थे। और इस कामयाबी के बाद उन्होंने अपनी टीम को जीत दिलाई। इस मैच के बाद एक चैनल को इंटरव्यू देते हुए आमिर ने रोहित को उनकी पुरानी बात को लेकर करारा जवाब दिया।

mohammad amir, respond, rohit sharma, normal, bowler, comment
mohammad amir

दरअसल, 2016 टी20 एशिया कप के मैच में आमिर ने रोहित का विकेट लिया था, उसके बाद इस खिलाड़ी की तुलना फैंस वसीम अकरम के साथ कर रहे थे और रोहित शर्मा ने कहा था कि आमिर कोई खास गेंदबाज नहीं है। इसके साथ ही रोहित ने कहा था कि उन्हें लेकर काफी हाइप बनाई जा रही है। मुझे नहीं लगता कि एक ही मैच के बाद ऐसा किया जाना चाहिए। वह अच्छे गेंदबाज हैं लेकिन उन्हें खुद को लगातार साबित करना होगा। वह एक सामान्य गेंदबाज हैं। किसी खास दिन वह अच्छी गेंदबाजी कर सकते हैं। ऐसा नहीं है कि वह अपनी गेंद से सभी को आउट कर सकते हैं।

बता दें कि आमिर ने रोहित शर्मा को इस बात का जवाब देते हुए कहा कि उन्हें दूसरों की राय से कोई फर्क नहीं पड़ता। उन्होंने कहा कि मैं यह सब नहीं सोचता। मैं सिर्फ अपने प्रदर्शन पर ध्यान देता हूं। मैं यह देखता हूं कि मैं टीम के लिए क्या कर सकता हूं। अपने बारे में लोगों की राय पर तवज्जो देने से सिर्फ तनाव ही होगा और मैं इससे बचना चाहता हूं।आमिर ने कहा किहर किसी को अपनी बात कहने का अधिकार है। वह चाहे किसी को वर्ल्ड-क्लास बोले या फिर सामान्य, यह पूरी तरह उस व्यक्ति पर निर्भर करता है।

साथ ही उन्होंने आगे कहा कि एक बल्लेबाज के रूप में रोहित शर्मा की इज्जत करते हैं। आमिर ने कहा कि यह उनकी राय है। उन्हें अपने राय व्यक्त करने का पूरा अधिकार है। संभव है कि मेरे बारे में उनकी राय अब बदल गई हो। लेकिन एक बात साफ है, मैं उन्हें कभी सामान्य बल्लेबाज नहीं कहूंगा। उन्होंने कहा कि भारत के लिए रोहित के रिकॉर्ड शानदार है। मैं उनका सम्मान करता हूं। अन्य क्रिकेटरों के बारे में वह क्या सोचते हैं यह पूरी तरह से उन पर निर्भर करता है लेकिन पूरे सम्मान के साथ मैं एक बात कहना चाहता हूं कि अन्य क्रिकेटर मेरे बारे में क्या राय रखते हैं मैं इसे लेकर फिक्रमंदन नहीं होता।