हेरात में शिया मस्जिद पर आत्मघाती हमला, 29 लोगों की मौत, 63 गंभीर रूप से घायल

हेरात। अफगानिस्तान की शिया मस्जिद पर आत्मघाती हमला हुआ है जिसमें करीब 29 लोगों की मौत हो गई है। हमलावरों ने शिया मस्जिद को निशाना बनाने के लिए खुद को उड़ा मस्जिद में उड़ा दिया। मस्जिद में हमले के दौरान 63 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। यह हमला ईरान के बॉर्डर से सटे इलाके में हुआ है। ये हमला उस समय हुआ जब लोग बड़ी तादाद में नमाज के लिए जमा हुए थे। मस्जिद पर हमले के बाद एक अस्पताल के प्रवक्ता डॉक्टर रफीक शीरजाई ने कहा कि अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 63 घायल हुए हैं। प्रवक्ता के मुताबिक कुछ घायलों की हालत चिंताजनक है और मौत के आंकड़े बढ़ भी सकते हैं।

 minority, shiite, Shia Mosque, blast, afghanistan, hospital
Shia Mosque blast

बता दें कि हेरात के अस्पताल प्रशासन ने बताया कि मस्जिद में लोग नमाज के लिए एकत्र हुए थे, तभी एक आत्मघाती हमलावर वहां घुस आया और खुद को विस्फोटक से उड़ा लिया। स्थानीय पुलिस प्रवक्ता अब्दुलहई वलीजादा ने बताया कि आत्मघाती के अलावा वहां एक से अधिक हमलावर मौजूद थे। वे नमाजियों पर ग्रेनेड फेंक रहे थे। अभी किसी भी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है।

साथ ही अफगानिस्तान में हुए आतंकी हमलों में इस साल अब तक 1,700 से अधिक नागरिकों की जान जा चुकी है। मालूम हो, अफगानिस्तान यूं तो , सीरिया या ईराक में आमतौर पर होने वाली सांप्रदायिक हिसा से मुक्त हो गया है। लेकिन इस्लामिक स्टेट की स्थानीय इकाई के कट्टरपंथी सुन्नी आतंकी पिछले एक साल में मुख्य रूप से यहां के शिया हजारा अल्पसंख्यकों पर बार-बार हमला करते रहे हैं।