मंत्री रामकरन आर्य ने दिया विवादित बयान

बस्ती। जैसे जैसे मतदान की तारीख नजदीक आ रही है वैसे वैसे नेताओं के जुबान भी फिसलने लगे है। बस्ती जिले में भी इसी तरह का बयान सामने आया है जो लोकतंत्र की छवि को धक्का पहुंचाता दिख रहा है। जी हां तीन बार विधायक रह चुके समाजवादी पार्टी की मौजूदा सरकार में राज्यमंत्री राम करन आर्य संसदीय मर्यादाओं को भूल गए। उन्होंने महादेवा विधान सभा में प्रचार के दौरान जो कुछ कहा वह स्वस्थ्य लोकतंत्र के निराश करने वाला है।

सपा कांग्रेस मेल के बारे में जब पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं बिना कांग्रेस भी सरकार बना सकता था लेकिन बहुत बड़े राछस को मारने के लिए हम छोटे छोटे राछस को इकठ्ठा किये है क्यों की यदि महान राछस आ जाएगा तो प्रदेश में खून खराबा कर देगा हिन्दू मुसलमान की लाशें तैरेंगी सड़के लहूलुहान हो जाएंगी , बीजेपी को राक्षसों की पार्टी बताते हुए उससे मजबूती से लड़ने के लिए छोटे छोटे शैतानो को इकठ्ठा करने वाली खुद की समाजवादी और कांग्रेस को बता दिया।

इतना ही नहीं आगे उन्होंने कहा कि अगर बीजेपी की रफ़्तार पर रोक नहीं लगी तो हिन्दू मुसलमान की लाशें तैरेंगी। यही कारण है कि हमने कांग्रेस को 105 सीट देकर दरिया दिल दिखाया जिससे क्रूर ताकते यूपी में न आ सके। बीजेपी और बीएसपी का एक ही करेक्टर है।

राकेश गिरि, संवाददाता