आकर्षण का केंद्र बना रूस के एयर शो में मिग-35 विमान

झुकोवस्की। रूस के प्रमुख अंतरराष्ट्रीय एयर शो एमएकेएस (मैक्स) में मिग-35 युद्धक विमान आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। इस एयर शो में 180 विदेशी कंपनियां भाग ले रही हैं जिनमें भारत की कपंनियां भी शामिल हैं। यह जानकारी बुधवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली। रोस्टेक स्टेट कॉरपोरेशन में अंतरराष्ट्रीय सहयोग और क्षेत्रीय नीति विभाग के प्रमुख विक्टर निकोलायेविच क्लादोव ने बताया कि यहां 10 राष्ट्रीय पवेलियन बनाए गए हैं और इस एयर शो में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड, लार्सन एंड टर्बो जैसी भारतीय कंपनियां और दूसरी अन्य कंपनियां भाग ले रही हैं।

MIG-35 aircraft, Russia, Air Show, Attraction, Center
MIG-35 aircraft russ

 

बता दें कि क्लादोव ने कहा कि यह विश्व स्तर पर होने वाले चार सबसे बड़े एयरशो में से एक है। रूस की करीब 800 कंपनियां और 37 देशों की 180 कपंनियां भाग ले रही हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम ‘के-226’ हेलीकॉप्टर के विनिर्माण को लेकर संयुक्त उपक्रम और दूसरी रक्षा परियोजनाओं के बारे में बात करेंगे।’’ भारत के साथ किसी परियोजना के बारे में पूछे जाने पर क्लादोव ने कहा वे सर्वविदित हैं।रूसी मीडिया मिग-35एस बहुद्देशीय विमान को इस एयर शो के प्रमुख आकर्षण के तौर पर पेश कर रही है। यह इस श्रेणी के 13वीं पीढ़ी का विमान है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक मिग एयरक्रॉफ्ट की मुख्य कार्यकारी अधिकारी इलया तारासेंको ने शो से कुछ दिन पहले कहा था, ‘‘हम मिग-35 विमान को मैक्स-2017 एयर शो में पेश करेंगे। हमारी निर्यात को लेकर बातचीत की योजना भी है।