अपने आखिरी भाषण में भावुक हुईं मिशेल ओबामा, देशवासियों का किया शुक्रिया

वाशिंगटन। अमेरिका की पहली महिला मिशेल ओबामा को अपने आखिरी आधिकारिक भाषण के दौरान भावुक नजर आईं, भाषण के दौरान उनकी आंखे भर गईं। व्हाइट हाउस में अपने भाषण के दौरान संबोधित करते हुए मिशेल ने कहा कि धार्मिक, सांस्कृतिक और लोगों के शरीर की त्वचा के रंगों में जो विविधता है, उससे हमारी पहचान को कोई खतरा नहीं है। असल में यही विविधता हमें हमारी पहचान देती है।

कर्मचारियों को संबोधित करते हुए उन्होंने अमेरिकी संस्कृति और यहां की धार्मिक विविधता का जिक्र भी किया। अपने भाषण में उन्होंने कहा कि आप डरिए मत। युवा लोग, आप मुझे सुन रहे हैं ना। आप डरिए मत, अपना फोकस साफ रखिए। दृढ़ता बनाए रखिए। अपने आपको बेहतर शिक्षा देकर खुद को मजबूत बनाइए। फिर बाहर निकलकर अपनी शिक्षा का इस्तेमाल इस देश को अपने सपनों का देश बनाने में किजिए।

उन्होंने कहा कि जो भी आप हमारे बच्चों और हमारे देश के लिए करते हैं, उन सभी का बातों के लिए आप सभी का शुक्रिया। मिशेल ने कहा कि देश की पहली महिला होना उनकी जिंदगी का सबसे बड़ा सम्मान था। उन्होंने यह भी कहा कि उनके पहली महिला होने से कइयों को अपने पर गर्व करने का मौका भी जरूर मिला है। गौरतलब है कि 20 जनवरी को राष्ट्रपति बराक ओबामा का कार्यकाल पूरा होने जा रहा है।