उप चुनाव को लेकर तीन राज्यों के अधिकारियों की हुई बैठक

धौलपुर। 31 मार्च को धोलपुर की विधानसभा सीट पर होने वाले उप चुनाव के संबंध में तीन राज्यों की बैठक आयोजित की गई थी, जिसमें तीनों राज्यों के पुलिस और प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। ये बैठक धोलपुर थर्मल पावर गेस्ट हाउस में आयोजित की गई थी। बैठक में उप चुनाव के दौरान सूचनाओं के आदान प्रदान और निरोधात्मक कार्रवाई में सहयोग और समन्वय पर जोर दिया गया है।

धौलपुर की जिला निर्वाचन अधिकारी शुचि त्यागी ने कहा कि धौलपुर विधानसभा सीट पर नौ अप्रैल को उप चुनाव के लिए मतदान होना है। जिला प्रशासन की ओर से सुरक्षा के माकूल इंतजाम किए जा रहे हैं। उप चुनाव के दौरान समीपवर्ती उत्तर प्रदेश और मध्यप्रदेश राज्यों से सटी साझा सीमा सील की जाएगी। जिससे एक राज्य की सीमा से दूसरे राज्य की सीमा में अपराधी तथा अन्य असामाजिक तत्वों का प्रवेश ना हो। इसके अलावा शराब की तस्करी तथा हथियारों पर रोक पर भी चर्चा हुई।

बैठक में इस बात पर भी सहमति बनीं कि उप चुनाव के दौरान निरोधात्मक कार्रवाई के अलावा सूचनाओं का आदन प्रदान सुचारू रहे। जिससे आवश्यकता पडने पर किसी अप्रिय स्थिति में मध्यप्रदेश के मुरैना और उत्तर प्रदेश के आगरा जिला प्रशासन के साथ में बेहतर तालमेल से काम किया जा सके। बैठक में चंबल नदी में नौ अप्रेल को नावों के संचालन पर रोक लगाने, आगरा मुंबई नेशनल हाईवे समेत अन्य स्टेट हाईवे पर नाकाबंदी कर वाहनों की चेकिंग करने तथा अन्य सुरक्षात्मक उपाय किए जाने पर भी चर्चा हुई।

बैठक में धौलपुर के पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह ने उप चुनाव के दौरान सुरक्षा से संबंधित उपायों के बारे में जानकारी देते हुए सुरक्षा इंतजामों में सहयोग का आग्रह किया। बैठक में उप चुनाव के लिए नियुक्त केन्द्रीय पर्यवेक्षक केपीएस राव एवं प्रमोद गुप्ता,आगरा जनपद के खेरागढ की उपखंडाधिकारी श्यामलता आनंद एवं एसओ अनुराग सिंह,मुरैना कलक्टर विनोद शर्मा एवं एसपी विनीत खन्ना तथा चुनाव के लिए नियुक्त अन्य अधिकारी मौजूद रहे।