एमडीए वीसी ने कर्मचारियों को भिजवाय जेल : मेरठ

मेरठ। विकास प्राधिकरण के वीसी और प्राधिकरण के कर्मचारियों के बीच में फैली रार रुकने का नाम नहीं ले रही है, पुलिस ने एमडीए अधिकारियों की शिकायत पर 57 लोगों पर मुकदमा दर्ज कर लिया है जबकि कर्मचारी नेता सुशील त्यागी और बलराम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

पूरे मामले में वीसी की माने तो एमडीए में कर्मचारी चुनाव के बाद से ही कुछ दिन पहले कर्मचारी लीडर कुछ लोगों के ट्रांसफर की लिस्ट लेकर वीसी योगेंद्र यादव से मिले,लेकिन किसी का भी ट्रांसफर करने से वीसी ने इंकार कर दिया था, जिसके बाद काफी संख्या में कर्मचारी वीसी ऑफिस में घुसे और पूरी तरह से बतमीजी की, जिसके बाद एमडीए के अधिकारियों ने सभी के खिलाफ मामला दर्ज करा दिया है।

दरअसल फिलहाल पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है, जबकि बाकी की तलाश की जा रही है, साथ ही पुलिस के आलाधिकारियों ने वीसी की सुरक्षा भी बढ़ा दी है, घर और ऑफिस दोनों जगह पुलिस कर्मी तैनात किए गए है, इसके अलावा वीसी योगेंद्र यादव ने साफ कर दिया है की इस प्रकरण में जितने भी लोग शामिल है किसी को बख्सा नहीं जाएगा, साथ ही शासन स्तर से भी कार्यवाही की जाएगी, इसमें निलंबन की कार्यवाही भी की जाएगी।

उधर कर्मचारीर संगठन भी अपनी रणनीति बना रहा है, फ़िलहाल उनके दो साथ जेल जा चुके है जबकि कई पर अभी जेल जाने की तलवार लटक रही है, लेकिन अब देखना होगा की मेरठ विकास प्राधिकरण के अधिकारियो और कर्मचारियों की ये रार कहा तक जाएगी।