एमडीए की टीम को विरोध : मेरठ

उत्तर प्रदेश। मेरठ में एमडीए की टीम भले ही अवैध निर्माण को तोड़ने के लिए अभियान चला रही हो, लेकिन टीम को हर मोड़ पर विरोध का सामना करना पड़ रहा है ।ताजा मामला मेरठ के परतापुर इलाके का है ।जहां अवैध रुप से निर्माणाधीन दुकानों को तोड़ने पहुंची तो एमडीए की टीम को भारी विरोध का सामना करना पड़ा। महिलाऐं और बच्चे छतों पर खड़े हो गए और लोगों की भारी भीड़ मौके जमा हो गयी।

वहीं एमडीए की टीम में भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंची है। टीम ने जैसे ही अतिक्रमण और अवैध निर्माण हटाने की कार्रवाई शुरू करने की कोशिश की तभी लोगों ने जमकर हंगामा करना शुरू कर दिया। जिसके बाद लोगों ने मांग की पहले एमडीए के उन भ्रष्ट अधिकारियों पर कार्रवाई की जाए जिनकी संरक्षण में ये अवैध निर्माण बनाया गया था।वहीं एमडीए की टीम और मौके पर लोगों के बीच टकराव हुआ है। दरअसल बात ये है की मेरठ अवैध निर्माण से पटा हुआ है ।सरकार बदलते ही एमडीए के अधिकारियों को अवैध निर्माणों पर कार्रवाई की याद आ गई। लेकिन अब अधिकारियों को विरोध का सामना करना पड़ रहा है।