महापौर पर कमीशन मांगने को लेकर केस हुआ दर्ज

झांसी। झांसी नगर निगम में कमीशन बाजी और घूसखोर के मामले लगातार सामने आ रहे हैं अभी हाल ही में नगर निगम के महापौर पर और उनके पति पर कमिशन मांगने के मामले को लेकर ठेकेदारों ने शहर कोतवाली में मामला पंजीकृत कराया था और अब नगर निगम के पूर्व संपत्ति अधिकारी द्वारा एक विज्ञापन एजेंसी से रिश्वत मांगने के आरोप में शासन ने उक्त अधिकारी को सस्पेंड कर दिया।

साथ ही मामले की जांच एडीएम फाइनेंस को सौंपी गई है। गौरतलब है कि एक विज्ञापन एजेंसी से 25 हजार रुपए रिश्वत मांगने की शिकायत अधिकारियों और शासन स्तर की गई थी। जिसके बाद सस्पेंड किया गया है।

mcd-jhansi

राम जानकी विज्ञापन एजेंसी की ओर से नगर निगम से साइड मांगी गई थी। जिस पर 15 साइड स्वीकृत की गई। जिसमें संपत्ति अधिकारी, कर अधीक्षक और विज्ञापन प्रभारी पुष्पराज गौतम ने देवेन्द्र दुबे से 30 हजार रूपए मांगे थे, मामला 25 हजार में तय हो गया था। इस बात की रिकार्डिंग की सीडी जिले के आला अधिकारियों से की गई।

जिस पर शासन ने संज्ञान लेते हुए पुष्पराज गौतम को सस्पेंड कर दिया। इसके साथ ही मामले की जांच एडीएम फाइनेंस को सौंपी गई है। वहीं, नगर आयुक्त अरूण प्रकाश ने बताया कि उन्हें सस्पेंड किए जाने की सूचना मिल चुकी है। जिस पर न्याय संगत तरीके से अमल किया जा रहा है। जांच के बाद साफ हो जाएगा कि आरोप में कितनी सच्चाई है।

विकास शर्मा, संवादादाता