राजद की रैली में शामिल होने के लिए मायावती ने रखी ये शर्त

पटना। बसपा प्रमुख मायावती ने जेडीयू की 27 अगस्त की रैली को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। मायावती ने रैली में शामिल होने के लिए राजद के सामने शर्त रखी है। मायावती का कहना है कि वो रैली में तभी शामिल होंगी जब विपक्ष सीटों के बटवारें को लेकर पूरी रणनीति तैयार कर लेगा। जबकि सीटों को लेकर रणनीति बनाना इतनी जल्दी आसान नहीं है। माया के इस तरह के बयान से तो यही लगता है कि वो रैली में शामिल नहीं होंगी। मायावती का कहना है कि पहले विपक्ष अपनी रणनीति साफ करें उसके बाद ही बसपा इस तरह की रैली का हिस्सा होगी।

rjd mayawati
rjd mayawati

बता दें कि उनका कहना है कि बसपा विपक्ष की एकता की नीति अपनाने का पूरी तरह से समर्थन करती है। लेकिन उनके पीछले चुनावी अनुभव ज्यादा अच्छा नहीं रहा है। माया का कहना है कि पिछले चुनाव में उनके साथ जो धोखे हुए हैं उनको उनसे बहुत कुछ सीखने को मिला है। सीटों के बटवारें को लेकर उनके साथ हमाशा धोखा किया गया है। इसलिए उन्होंने इस बात को पहले ही साफ कर दिया है कि पहले सीटों को लेकर बात साफ कर दी जाए। उसके बाद ही बसपा किसी भी रैली का हिस्सा होगी। वहीं सबकी नजरे बसपा और राजद के गठबंधन पर टिकी हुई हैं।