डॉक्टर की लापरवाही के चलते प्रसूता की हुई मौत

शामली। जिले के कस्बा कांधला के राजकीय अस्पताल में मानवीय संवेदनाओ को तार-तार करने वाला मामला सामने आया है। जहां पर महिला चिकित्सकों की लापरवाही के चलते गर्भवती महिला की नवजात को जन्म देने के बाद मौत हो गई। कस्बे के मौहल्ला नई बस्ती निवासी फुरकान की 30 वर्षीय पत्नी गुलिस्ता 9 महा की गर्भवती थी महिला को प्रसव पीड़ा होने के चलते कस्बे के राजकीय अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां पर महिला ने सुबह 5:00 बजे नवजात को जन्म दिया है।

shamli-1

महिला की डिलीवरी होने के बाद महिला चिकित्सक अपने कमरे में जाकर सो गई जिसके चलते महिला की हालत बिगड़ गई परिजनों के बार-बार बुलाने पर भी महिला चिकित्सक नहीं आई जिसके चलते नवजात को जन्म देने वाली महिला की राजकीय अस्पताल में ही मौत हो गई ।

महिला की मौत हो जाने के चलते महिला के परिजनों ने जिला अधिकारी शामली सुजीत कुमार को पत्र भेजकर महिला चिकित्सकों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। पीड़ित परिजनों ने गमगीन माहौल में मृतक महिला के सबको दफना दिया है परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है।काँधला सी.एच. सी का यह कोई पहला मामला नही है। इससे पूर्व भी डाक्टरो की लापरवाही के चलते एक महिला को अस्पताल मे भर्ती नही करने पर सडक पर ही बच्चे को जन्म दे दिया था। और दूसरी महिला ने अस्पताल के फर्ष पर बच्चे को जन्म दिया था। वही बुखार से पीडित मरीज अस्पताल के फर्ष पर पडा तडफता रहा था। मगर किसी डाक्टर या कर्मचारी ने उसे देखने की जहमत नही उठाई थी।

काँधला सरकारी चिकित्सालय में आये दिन डाक्टरो की लापरवाही देखने को मिलती रही है। मीडिया में भी खबरे बहूत उछली है। मुख्य चिकित्साधिकारी व जिलाधिकारी को भी इसकी शिकायत की गई है। मगर नतीजा वही ढाक के तीन पात, इसे अधिकारियो की लापरवाही समझे या फिर अधिकारी भी फीलगुड कर चुप्पी साध जाते है।

rp_pankah-malik_shamliपंकज मलिक, संवाददाता