प्राकृतिक आपदाओं से बचाव के लिए 22 को माॅक-ड्रिल

हरिद्वार। जिले में आपदा प्रबन्धन विभाग द्वारा भूकम्प के माॅक ड्रिल विषय पर आज उच्च स्तरीय बैठक कलक्ट्रेट में की गई।  बैठक में निश्चित किया गया कि 22 फरवरी को हरिद्वार में भूकम्प आने के काल्पनिक दृश्य को लेकर वास्तविक त्वरित कार्यवाही के लिए सभी टीमें घटना स्थल की तरफ विभिन्न क्षेत्रों में प्रस्थान करेंगी।

इस वास्तविक दृश्य के अन्तर्गत मोबाईल, टेलीफोन, संचार सेवाएं ठप हो चुकी होंगी, हास्पिटल के सभी बैड फुल रहेंगे फिर भी घायलों, मृतकों की संख्या अस्पताल में आने के लिए बढ़ती जायेगी। आपदा परिचालन केन्द्र में सभी अधिकारी पहुंचेंगे। यहां पर पानी, बिजली, सड़क एवं राशन की आपूर्ति का नियंत्रण विभिन्न क्षेत्रों के लिए कन्ट्रोल रूम से समन्वय बनाकर किया जायेगा। वायरलेस से ही दूरसंचार का काम किया जायेगा।

इस माॅक ड्रिल में एसडीआरएफ, बीईजी, पीएसी, की टीमों का भी सहारा लिया जायेगा।  माॅक ड्रिल के पूर्व एक मेज पर बैठकर इससे सम्बन्धित अधिकारियों ने माॅक ड्रिल का खाका खींचा।  इस अवसर एस.डीआरएफ, सीआईएसएफ, बीईजी के अधिकारियों सहित, जिलाधिकारी एस.ए. मुरूगेशन, मुख्य विकास अधिकारी डाॅ. मेहरबान सिंह बिष्ट, अपर जिलाधिकारी प्रशासन डाॅ. अभिषेक त्रिपाठ एवं सम्बन्धित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।