डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ लाखों लोगों ने महिला मार्च में लिया हिस्सा

वाशिंगटन। महिला के अधिकारों के समर्थन और अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के विरोध में 10 लाख से भी अधिक लोगों ने पूरे अमेरिका और दुनियाभर में मार्च किया। समाचार एजेंसियों के अनुसार कांग्रेस सदस्य, दिग्गज अभिनेत्रियां और असंख्य नागरिक आव्रजन, स्वास्थ्य सुविधा और कई अन्य मुद्दों पर ट्रंप के विरोध में शनिवार को आयोजित महिला मार्च में शामिल हुए।

कई महिलाओं ने चुनाव प्रचार अभियान के दौरान सामने आई एक रिकॉर्डिग के प्रतीक के तौर पर गुलाबी रंग की हैट्स पहनी हुई थी, जिसमें ट्रंप ने महिलाओं के साथ छेड़छाड़ की बात की थी। सबसे बड़ा विरोध प्रदर्शन वाशिंगटन में हुआ। प्रदर्शनकारी उसी पेनसिल्वानिया एवेन्यू में भारी संख्या में एकत्र हुए थे, जिस पर शुक्रवार को ट्रंप अपने शपथ ग्रहण समारोह के लिए चलकर गए थे।

शनिवार शाम को प्रदर्शनकारियों की भीड़ व्हाइट हाउस की ओर उमड़ी। फिल्मकार माइकल मूर, स्त्रीवादी ग्लोरिया स्टेनेम, संगीत जगत की हस्तियां मैडोना और एलिशिया कीज, अभिनेत्री स्कार्लेट जॉनसन जैसी कई सेलेब्रिटीज ने आव्रजन, मुस्लिमों और महिलाओं पर ट्रंप के विचारों को लेकर उन पर हमला बोला। बोस्टन पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, बोस्टन में 1,20,00 से 1,25,000 लोगों ने प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

सीनेटर एलिजाबेथ वॉरेन ने बोस्टन में प्रदर्शनकारियों से विद्रोह करने का आह्वान करते हुए कहा, “हम रो सकते हैं, हम कराह सकते हैं या फिर हम लड़ सकते हैं। हम यहां कंधे से कंधा मिलाकर साथ खड़े होने के लिए आए हैं। हम चुप नहीं रहेंगे। हम अपने विश्वास के लिए लड़ेंगे।” निजी समाचार एजेंसियों की मानें तो लॉस एंजेलिस में एक लाख से अधिक लोगों ने मार्च किया। न्यूयॉर्क शहर में प्रदर्शनकारियों ने ट्रंप टॉवर की ओर मार्च किया, लेकिन उन्हें फिफ्थ एवेन्यू पर रोक दिया गया। लंदन से लेकर, तेल अवीव, मेलबर्न, कोसोवो में स्थित प्रिस्टिना, बर्लिन बुडापेस्ट, बार्सिलोना समेत दुनियाभर के सभी प्रमुख शहरों में ट्रंप के खिलाफ लोगों ने प्रदर्शनों में हिस्सा लिया।