गुरुवार को मनोज तिवारी एसटीएफ एसएसपी का संभालेंगे कार्यभार

उत्तर प्रदेश एसटीएफ के लखनऊ कार्यालय पर सिक्किम कैडर के आईपीएस मनोज तिवारी के स्वागत की तैयारी चल रही है। शासन स्तर से हुए तबादले में एसएसपी एसटीएफ अमित पाठक के स्थान पर मनोज तिवारी को उनकी 6 वीं तैनाती दी है। मुरादाबाद में 21 जनवरी 2017 से एसएसपी रहे मनोज तिवारी को एसएसपी एसटीएफ बनाया गया है। उत्तर प्रदेश में अपराध नियंत्रण के लिए सक्रिय एसटीएफ का नेतृत्व उन्हें सौंपने का फैसला शासन स्तर से हुआ है।

अपने तेजतर्रार अंदाज के लिए पहचान बनाने वाले मनोज तिवारी गुरुवार को लखनऊ पहुंच रहे हैं। मंगलवार को देर रात्रि हुए 40 आईपीएस अधिकारियों के स्थानान्तरण में एसएसपी एसटीएफ रहे अमित पाठक को गोरखपुर का एसएसपी बना दिया गया। उनके स्थानान्तरण के पीछे की वजहों पर चर्चाओं का बाजार गर्माया हुआ है। वहीं लखनऊ पेट्रोल पम्प एसोसिएशन को उनके तबादले की मुख्य वजह माना जा रहा है। बता दें कि वर्ष 2003 बैच के आईपीएस अधिकारी मनोज तिवारी ने मुरादाबाद में रहते हुए साम्प्रदायिक घटनाओं और गो तस्करी पर पूरी तरह से रोकथाम लगा रखा था। मुरादाबाद में भूमाफियाओं पर भी उन्होंने नकेल खींच दी थी।

वही कानून व्यवस्था को और दुरुस्त करने के लिए सूबे में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर से पुलिस महकमें में बड़ा फेर बदल किया है। पुलिस महकमें में बड़ा फेर बदल करते हुए सीएम योगी ने 12 एसपी और 41 आईपीएस की तबादला किया है। फेरबदल करते हुए एडीजी आनंद कुमार को एडीजी कानून-व्यवस्था बनाया गया है। पहले इस पद पर आदित्य मिश्रा तैनात थे लेकिन उनका पद अब आनंद कुमार को बनाया गया है। सीएम योगी ने 12 जिलों के पुलिस अधीक्षकों का तबादला किया है। सीएम योगी ने वाराणसी, मुरादाबाद, मेरठ, सुल्तानपुर, कौशांबी, पीलीभीत, रायबरेली, बलरामपुर, मथुरा, बांधा तथा जालौन शामिल है।