मलेशिया के इस्लामी स्कूल में आग लगने से 23 बच्चों समेत दो वार्डन की मौत

नई दिल्ली। मलेशिया की राजधानी कुआलालंपुर में एक धार्मिक स्कूल में आग लगने से हादसा हो गया। हादसे में स्कूल के 25 छात्र और शिक्षकों की मौत हो गई। अधिकारियों का कहना है कि तहफ़ीज़ दारुल क़ुरान इत्तिफ़ाक़िया में आग तड़के उस वक़्त लगी जब बच्चे सो रहे थे। अग्निशमन विभाग के निदेशक खिरुद्दीन दुहराम ने एएफपी को बताया कि मरने वालों में 23 बच्चे और 2 वार्डन शामिल हैं।

malaysia school fire
malaysia school fire

बता दें कि फिलहाल मरने वालो की उम्र का पता नहीं चला है। रिपोर्ट के मुताबिक कई घायल बच्चों को पास के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया। इनमें से कुछ ने धुएं के कारण दम घुटने की शिकायत की है। निजी इस्लामी स्कूल अपनी वेबसाइट पर बच्चों और उनके परिवार वालों की क्लास में ली गई तस्वीरें लगाता है। अधिकारियों ने आगे बताया कि ये पिछले 20 सालों में देश में हुई आग की घटनाओं में सबसे भयंकर हो सकती है।

वहीं हाल के दिनों में लगातार आग लगने की घटनाओं पर मलेशियाई प्रशासन ने निजी स्कूलों के सुरक्षा उपायों पर अपनी चिंता जताई है। स्थानीय मीडिया में आई रिपोर्ट्स के मुताबिक 2015 से अब तक 200 बार आग लगने की ऐसी घटनाएं हुई हैं। प्रधानमंत्री नजीब रज्ज़ाक ने ट्वीट कर हताहतों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।