प्रदेश में धूमधाम से मनाया जा रहा है मकर संक्रांति पर्व

पटना। प्रदेश की राजधानी पटना सहित प्रदेश भर में शनिवार को मकर संक्रांति पर्व को धूमधाम से गंगा में स्नान दान कर मनाया जा रहा है। राज्य भर के गंगा घाटों पर प्रात: काल से ही स्नान दान करने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ लगी हुई है जो शाम तक जारी है, खासकर बक्सर के अति पौरणिक घाट रमरेखा, सोनपुर, भागलपुर और पटना के गंगा घाटों पर भारी मात्रा में श्रद्धालु आस्था की डुबकी लगा रहे है। इसके बाद चूड़ा-दही खिचड़ी का स्वाद लेने के साथ लोग रिश्तेदारों के यहां जा रहे हैं और उनकी आवभगत कर रहे हैं।

इस साल सुबह सात बजकर 32 मिनट पर भगवान सूर्य धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करेंगे। संक्रमण का पुण्यकाल 20 घंटे 40 मिनट बाद तक रहता है। लिहाजा मकर संक्रांति का स्नान-दान सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक होगा। संक्रमण काल में गंगा आदि नदियों के अलावा सरोवर तालाब में स्नान, सूर्य दर्शन दान का विशेष महत्व है। स्नान के बाद तिल, तिल से बने सामान, गर्म कपड़े अन्नादि को दान करने से भगवान सूर्य प्रसन्न होते हैं। राशि के अनुसार दान करने से मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

इस मौके पर ​बिहार के राज्यपाल रामनाथ कोविंद और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सहित प्रमुख समाज सेवी, राजनीतिक दल के लोगों ने मकर संक्राति पर्व की प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी है।