लोकसभा की बैठक सोमवार तक के लिए स्थगित

नई दिल्ली। संसद के बजट सत्र के तीसरे दिन लोकसभा की कार्यवाही दो बार बाधित होने के बाद दोपहर एक बजे सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई। सदन की बैठक शुरू होने से पहले कांग्रेस ने कार्यवाही स्थगित करने की मांग की। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि दिवंगत सांसद ई. अहमद और उनके परिवार के साथ अस्पताल की तरफ से हुए दुर्व्यवहार के मुद्दे की जांच के लिए एक संसदीय समिति गठित की जाए।

लोकसभा की बैठक शुरू होने से पहले कांग्रेस ने ई. अहमद के निधन को लेकर स्थगन प्रस्ताव दिया। कांग्रेस मांग कर रही थी कि बैठक स्थगित की जाए और अहमद के निधन और अस्पताल की ओर से इस जानकारी को विलंब से दिए जाने के मामले को उठाने का मौका दिया जाए। किंतु, लोकसभा अध्यक्ष ने प्रश्नकाल की बैठक शुरू कर दी। इस कारण कांग्रेस व दूसरे विपक्षी दल के सांसदों ने हंगामा शुरू कर दिया और बैठक 12 बजे तक स्थगित कर दी गई। 12 बजे के बाद बैठक फिर शुरू हुई तो हंगामे के कारण कार्यवाही दोपहर 1 बजे और फिर सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई।

बता दें कि संसद के बजट सत्र के तीसरे दिन के शुरू होते ही कांग्रेस ने सासंद ई. अहमद के निधन को लेकर काफी हंगामा किया था। भारी शोरगुल के कारण सदन में प्रश्नकाल की कार्यवाही पूरी न हो पाई थी, जिसके बाद लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन की बैठक 12 बजे तक स्थगित कर दी थी।

लोकसभा की बैठक शुरु होने से पहले कांग्रेस ने सांसद ई. अहमद के निधन को लेकर स्थगन प्रस्ताव दिया। कांग्रेस यह मांग कर रही थी कि, बैठक स्थगित की जाए और अहमद के निधन और अस्पताल की ओर से इस जानकारी को विलंब से दिए जाने को मामले को उठाने का मौका दिया जाए। किंतु, लोकसभा अध्यक्ष ने प्रश्नकाल की बैठक शुरू कर दी। इस कारण कांग्रेस व दूसरे विपक्षी दल के सांसदों ने हंगामा शुरु कर दिया और बैठक 12 बजे तक स्थगित कर दी गई। उधर, राज्यसभा में जदयू नेता शरद यादव ने भी यूनिफॉर्म सिविल कोड के मसले पर राज्यसभा में स्थगन प्रस्ताव सौंपा।