ठेके पर शराब के बदले मिली दूध की बोतल

पंजाब। बरनाला के एक गांव कैरे में शराब का विरोध कर रही महिलाओं ने ठेके पर शराब खरीदने आए लोगों को शराब की बोतल की जगहा दूध की बोतल दे दी। महिलाओं ने ये काम शराबी लोगों की बुरी लत को छुड़ाने के लिए ये मुहीम चलाई है। जिससे की पुरुष इस शराब की बुरी लत छोड़ देंगे। शराब की जगह दुध की बोतल देकर महिलाओं ने लोगों से ठेके को बंद करवाने के लिए कहा।

पूरा मामला बरनाला के कैर गांव के ठेके का है जहां की महिलाओं ने शराब का ठेका बंद कराने के प्रदर्शन करते हुए ‘आओ नशा मुक्त गांव बनाएं संघर्ष कमेटी’ का गठन किया है। ये धरना यूनाइटेड अकाली दल के जिला अध्यक्ष के नेतृत्व में ठेका हटवाने के लिए धरना प्रदर्शन किया है। धरने के दौरान जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की गई ,साथ ही साथ ठेके पर दारु लेने आए लोगों को महिलाओं ने दूध की बोतलें दी ।

परमजीत सिंह कैरे ने कहा की दिसंबर 2010 में कैर गांव में से शराब के ठेके को हटवा दिया गाया था। लेकिन पिछले कुछ दिनों से गांव के पास से गुजरने वाली ट्रेन की पटरी पर खोखा रख कर शराब बेची जा रही है। उन्होंने बताया की ये ठेका प्रशासन की के सहयोग से हो रहा है ,जल्द से जल्द प्रशासन इसे हटवाये । नहीं तो यो प्रदर्शन यूं ही जारी रहेगा।

महिलाओं के द्वारा प्रदर्शन में युवकों ने भी साथ दिया।