खिचड़ी स्वाद के साथ सेहत के लिए भी है फायदेमंद जाने कैसे

नई दिल्ली। इन दिन खिचड़ी का खुमार और जादू सर चढ़ कर बोल रहा है। देश की राजधानी दिल्ली में इसे इन्टरनेशन फूड फेस्टिवल में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाकर इनके अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर इसे लोकप्रति बनाना था। वैसे खिचड़ी का नाम लेते ही घरों में एक बात का जिक्र होता है कि कोई बिमार है क्या लेकिन देखा जाये तो खिचड़ी एक वैसा अनाजों के मिश्रण से तैयार भोज्य पदार्थ है जो कि स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है। विविधताओं के देश में खिचड़ी बनाने के तरीके भी अलग-अलग होते हैं।

हमारे देश में कई वैराइटी की खिचड़ी बनाई और खाई जाती है। लोगों ने इसे मरीजों का भोजन बताया है लेकिन हकीकत में ये न्यूट्रिशन से भरपूर एक सुपाच्च भोज्य पदार्थ है। इसको अलग-अलग तरीके से स्वाद में लाया जाता है। देश के कई हिस्सों में इसको प्रमुख स्थान भी दिया जाता है। आईये जानते हैं स्वास्थ्य के लिए खिचड़ी के फायदे…

पोषक तत्वों से भरपूर
खिचड़ी एक सर्वोत्तम पौष्टिक आहार है। इसमें कई सारे अनाजों का मिश्रण होता है। इसकी वजह से इसमें पोषक तत्व बहुत ही ज्यादा होते हैं। इसमें चावल, दाल और घी के साथ मिश्रण हमारे शरीर में कार्बोहाइड्रेट्स के साथ प्रोटीन और फाइबर के अलावा कैल्शियम के साथ अन्य न्यूट्रिशन की मात्राओं को पहुंचा पाता है। इसके साथ ही इसमें प्रयोग की जाने वाली सब्जियों के साथ यह मिश्रण स्वाद के साथ स्वास्थ्य के लिए लाभदायक हो जाता है।

सुपाच्च आहार है
खिचड़ी एक ऐसा सुपाच्च पौष्टिक आहार है जिससे हमारे लीवर और आंतों को आराम मिलता है। ये एक खास वजह है कि बिमारी में मरीज को खिचड़ी खिलाई जाती है। जिससे इसके आर्गनों को इससे पचाने में मेहनत ना करनी पड़े। इसके साथ ही आप अगर लगातार मसालेदार खाना खाकर परेशान हैं तो आपका स्वाद बदलने में भी खिचड़ी की भूमिका खास हो जाती है। इसके साथ ही यह आहार बुजर्गों और बच्चों के साथ वेचलर लाइफ गुजारने वालों का पसंदीदा आहार बन चुका है।

शरीर के तीन दोष कफ-पित-वात को दूर करने में सहायक
खिचड़ी यानी कई तरह के अनाजों और सब्जियों का एक मिश्रण आयुर्वेद की माने तो इससे शरीर में होने वाले इन तीन कफ-पित-वात दोषों को बैलेंस करने की क्षमता केवल इसी भोज्य पदार्थ में होती है। इससे शरीर के आर्गनों को आराम मिलता है। इसके साथ ही इसमें मौजूद पदार्थों के कारण शरीर में न्यूट्रिशन की मात्रा संतुलित रहती है।