लेडी डीएम को आया गुस्सा अधिकारी को किया मौके से निलंबित : हरदोई

उत्तर प्रदेश। बुधवार को हरदोई में तहसील दिवस का मौके पे डीएम सहित आला अधिकारी मौजूद थे। फरियादियों की लम्बी लाइन शिकायत करने को खड़ी थी। तभी कुछ शिकायतों पर लेडी डीएम को गुस्सा आ गया फिर क्या था तहशील दिवस के सारे अधिकारी डर से कापने लगे दरअसल योगी सरकार की मंशा है की जन सामान्य की समस्याओं का गुणवत्तापूर्ण सतही समाधान हो ताकि उन्हें बार-बार कार्यालयों के चक्कर न लगाना पड़े पर हरदोई के ज्यादातर अधिकारी सरकार की मंशा के अनरूप कार्य नहीं कर रहे है ऐसे में आज एक फरियादी की शिकायत पे डीएम भड़क उठी और निलंबन तक की कार्रवाई सम्बंधित विभाग के जे ई के विरुद्ध कर दी।

दरअसल आज सदर तहसील में समाधान दिवस में जब डीएम शुभ्रा सक्सेना शिकायतें सुन रही थी उसी समय फरियादी उमा देवी पत्नी सत्य प्रकाश दीक्षित निवासी ग्राम व पोस्ट कौढ़ा बावन ने प्रार्थना पत्र देकर जिलाधिकारी को अवगत कराया की गहरी बोरिंग योजनार्न्तगत वर्ष 2015-16 में खेत में बोरिंग करायी गई। इसके पश्चात् विद्युत विभाग को कनेक्शन हेतु आवेदन दिया गया। कई बार विद्युत विभाग कार्यालय के चक्कर लगाने के बाबजूद अभी तक विद्युत कनेक्शन नहीं दिया गया। इस पर जिलाधिकारी का गुस्सा सातवे आसमान पर था ,तहशील दिवस में अधिकारियों पे चिल्लाने से लोग खौफ में आ गए। बिजली विभाग के एक अधिकारी से वो चिल्लाते हुए बोली -कौन सस्पेंट होगा ,आप लिख कर देंगे की सस्पेंशन होने की इनकी आवश्यकता है ,कौन सस्पेंट होगा बोलिये ,जे ई सस्पेंट होगा ,या नहीं होगा इसमें आज शाम तक इसकी चिट्ठी जायेगी सस्पेंट होने की। आज शाम तक तरहालत में ,क्यों की आदमी परेशान हो रहा है -दिस इज लिमिट -जे ई सस्पेंट होगा और एस डी ओ को प्रतिकूल प्रविष्टि समझे। जिलाधिकारी शुभ्रा सक्सेना ने कड़ा रूख अपनाते हुये कार्यो में शिथिलता एवं लापरवाही बरतने पर अवर अभियंता विद्युत पीयूष वर्मा के निलंबन तथा संबन्धित एस0डी0ओ0 को हैडिल को प्रतिकूल प्रविष्टिी देने के निर्देश दिए।

ऐसे ही एक महिला हरियावा की कमला जो शिकायत लेकर जिलाधिकारी के पास पहुंची जहां उसने बताया की हमारे खेत की नाप होने को है हम कई बार लेखपाल के चक्कर लगा चुके है पर लेखपाल हमसे प्रति बीघा 8000 रुपये की मांग कर रहे हो इतना सुनते ही लेडी डीएम का गुस्सा सातवे आस्मां पर वो बोली ,जरा देखो दिमाग खराब है इन लोगो के ,इतना ये डीएम के सामने बोल रही है तुम क्या करते होंगे गांव में ,डीएम बोली लेखपाल से हम देंगे तुमको 8000 बीघा -ऐ क्या नाम है तुम्हारा सुधर जाओ तुम लोग ,लेखपाल के बोलने पे डीएम बोली की तुम लोग लेते नहीं हो पैसे मतलब। लाओ रिपोर्ट अभी लाओ रिपोर्ट (चिल्लाते हुए ) तुम दोनों को जेल जाना है क्या ,बेशर्मी की हद हो चुकी है।