ICJ: कल आयेगा कुलभूषण जाधव पर फैसला…

नई दिल्ली। ICJ कल सुनाएगा कुलभूषण जाधव पर अपना फैसला। भारत और पाकिस्तान ने ICJ में अपनी-अपनी दलीलें दी हैं। भारत के कहने के बावजूद पाकिस्तान ने हमें कुलभूषण जाधव से जुड़ी कोई जानकारी नहीं दी, जाधव के माता-पिता पाकिस्तान आकर अपने बेटे से मिलना चाहते थे, उन्होंने इसको लेकर गुजारिश भी की थी लेकिन पाकिस्तान ने कोई जवाब नहीं दिया था। हमारी मांग है कि सिर्फ मिलिट्री कोर्ट की सुनवाई के आधार पर कुलभूषण जाधव को फांसी ना दी जाए। 

कुलभूषण जाधव के माता-पिता उसकी मदद नहीं कर पा रहे हैं, फिर भी पाकिस्तान कोई सूचना नहीं दे रहा है। 27 अप्रैल को भारत ने दोबारा पाकिस्तान के सामने इस मुद्दे को उठाया था लेकिन पाकिस्तान ने हमारी बात नहीं सुनी थी। पाकिस्तान की मिलट्री कोर्ट पहले भी इस तरह के फैसले सुनाती रही है, और उन्हें बिना किसी चुनौती के सुने अमल में ला दिया जाता है।

भारतीय प्रतिनिध ने कहा कि वियना संधि के तहत कहा गया है कि अगर किसी व्यक्ति को पकड़ा जाता है, तो दोनों देशों में उसे राजनियक नियमों के तहत मदद मिलेगी, इसका उल्लेख आर्टिकल 36 में भी हुआ है. भारत किसी अन्य देश की न्यायिक व्यवस्था में हस्तेक्षेप नहीं कर रहा है, हम सिर्फ अंतरराष्ट्रीय नियमों की बात कर रहे हैं। पाकिस्तान को नियमों का पालन करना ही होगा।

अनुच्छेद 36 के पहले पैराग्राफ में भी इस बात का उल्लेख किया गया है कि इस प्रकार के मामले में इंटरनेशनल कोर्ट में चुनौती दी जा सकती है। भारत और पाकिस्तान संयुक्त राष्ट्र के सदस्य हैं और दोनों ही देश वियना संधि के नियमों का पालन करने के लिए प्रतिबद्ध है। संधि के अनुसार कहा गया है कि कोई भी मतभेद होने पर इंटरनेशनल कोर्ट इसे सुलझा सकती है।

गौरतलब हैं कि पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा सुनाई है, उन पर पाकिस्तान के लिए जासूसी करने और देश विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगा है। भारत का कहना है कि जाधव को ईरान से अगवा किया गया था, वो भारतीय नेवी से रिटायरमेंट के बाद ईरान में अपना बिजनेस चला रहे थे। जबकि पाकिस्तान का दावा है कि कुलभूषण को ब्लूचिस्तान से 3 मार्च 2016 को हिरासत में लिया था।

 

भारत ने दायर की पिटीशन

इंटरनेशनल कोर्ट में भारत की तरफ से सीनियर एडवोकेट हरीश साल्वे ने 8 मई को पिटीशन दायर की थी। भारत ने यह मांग की थी कि भारत के पक्ष की मेरिट जांचने से पहले जाधव की फांसी पर रोक लगाई जाए।

जाने कौन हैं कुलभूषण जाधव:-

  • कुलभूषण जाधव मुंबई के रहने वाले है।
  • उनके पिता सुधीर जाधव और चाच सुभाष जाधव मुंबई पुलिस में काम करते थे।
  • कुलभूषण के एक रिटायर्ड भारतीय नौसेना अधिकारी है।
  • मार्च 2016 में पाकिस्तान ने रॉ एजेंट होने के इल्जाम में गिरफ्तार कर लिया था।