जाधव केस: क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने की पाकिस्तानी ट्रोलर की बोलती बंद

नई दिल्ली। भारतीय पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने एक पाकिस्तानी ट्रोलर की बोलती बंद कर दी। उसकी बोलती बंद करते हुए कैफ ने कहा कि कुलभूषण जाधव केस में इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) का फैसला आने के बाद कैफ ने एक ट्वीट कर खुशी जताई थी। इसके बाद पाकिस्तान के एक ट्विटर यूजर ने कैफ को घेरने की कोशिश की, उसके बाद इस ट्रोलर को भी ठीक उसी तरह अपने मुंह की खानी पड़ी जैसे ICJ में पाकिस्तान को खानी पड़ी थी।

बता दें कि ICJ ने कुलभूषण जाधव की फांसी पर स्टे लगा दिया। ICJ ने कहा कि उसके द्वारा अंतिम फैसला सुनाए जाने तक फांसी न दी जाए। इस फैसले के आने के बाद पूरे देश में खुशी की लहर फैल गई। मोहम्मद कैफ ने भी इस खुशी में एक ट्वीट किया। कैफ ने अपने ट्वीट में भारत के साथ-साथ ICJ को भी बधाई देते हुए कहा कि न्याय की जीत हुई।

वहीं मोहम्मद कैफ का यह ट्वीट पाकिस्तान के एक ट्विटर यूजर को कुछ हजम नहीं हुई। उस यूजर ने कैफ के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि अपने नाम से मोहम्मद शब्द हटा दो। जाहिर तौर पर यह एक तल्खी से भरी टिप्पणी थी, लेकिन कैफ का जवाब भी लाजवाब था। कैफ ने कहा कि उन्हें उनके नाम पर गर्व है।

साथ ही कैफ ने आमिर नाम के उस शख्स को एक सीख भी दे डाली। कैफ ने लिखा कि आमिर का अर्थ ‘जीवन से भरा’ होता है। आपको इसकी जरूरत है। कैफ ने इसके बाद एक और ट्वीट में लिखा कि कोई भी किसी धर्म का ठेकेदार नहीं है। ठेकेदारों का किसी भी नाम पर कॉपीराइट नहीं है। अंत में कैफ ने लिखा कि भारत सबसे समावेशी और सहिष्णु देश है।